पचलो की शायरा हत्याकांड : हत्या के मामले में चार महीने से फरार चल रहा अभियुक्त मुम्बई से गिरफ्तार

पचलो गांव की रहने वाली नविवाहिता की उसके देवर ने गला कसकर वेरहमी से की थी हत्या,21 मार्च को हुए इस हत्याकांड में मुख्य आरोपी मृतिका के देवर को पहले ही भेज चुकी है जेल।

पटरंगा(अयोध्या) ! पटरंगा थाना क्षेत्र के ग्राम पचलो में 21मार्च को हुए शायरा बानो हत्याकांड के दूसरे आरोपी को भी पुलिस ने मुम्बई से गिरफ्तार कर लिया है।थानाध्यक्ष संतोष कुमार सिंह के कुशल नेतृत्व में 21 अगस्त को एसआई अभिषेक त्रिपाठी मय कांस्टेबल विजय सरोज व सुनील कुमार को मुम्बई रवाना किया गया था।जहां मुखविर की सटीक सूचना पर स्थानीय पुलिस की मौजूदगी में टीम ने उसे एक कमरे से धर दबोचा।वहां से अभियुक्त को सीधे पटरंगा थाने में लाकर दाखिल किया।तत्पश्चात उसे न्यायालय के समक्ष पेश किया गया।जहां से उसे जेल भेज दिया गया।
बता दे पचलो गांव की विवाहिता शायरा बानो 21 मार्च की रात को संदिग्ध परिस्तिथियों में लाश फांसी के फंदे से लटकती मिली थी।जिसकी पीएम रिपोर्ट में गला कसकर हत्या किए जाने की पुष्टि हुई थी।इस सम्बन्ध में पुलिस ने महिला के पिता की तहरीर पर महिला के देवर पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया था।जिसे हत्या के तीसरे दिन ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।थानाध्यक्ष संतोष कुमार सिंह ने बताया कि मृतिका शायरा का पति विदेश में रहता था।घर पर मृतिका अपनी एक पांच वर्ष की पुत्री के साथ अकेली रहती थी।छानबीन में पता चला कि महिला का समीर नामक युवक से अवैध सम्बन्ध थे।समीर की रिस्तेदारी पचलो गाँव में थी।इस नाते उसका आना जाना लगा रहता था।बाद में सायरा बानों के दूसरे से दोस्ती के शंका में अपने साथ खींचे गये सायरा बानों की अंतरंग फोटो को उसके देवर के मोबाइल पर भेज दिया था।जिससे कुपित होकर देवर जावेद ने 21 मार्च 2019 को सायरा बानो की गला दबाकर बेरहमी से हत्या कर दी थी और लाश को फंदे से लटकाकर आत्महत्या का रुप देने का प्रयास किया था।जावेद को पुलिस ने पहले ही जेल भेज दिया था।मामले में फरार चल रहे दूसरे अभियुक्त समीर को पुलिस ने मुम्बई से गिरफ्तार कर शनिवार को जेल भेज दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News