प्रमुख ख़बरें

भारत के मुसलमान को कोई माई का लाल छू भी नहीं सकता है :राजनाथ सिंह

उत्‍तर प्रदेश के मेरठ (Meerut) में बुधवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) जमकर गरजे. इस दौरान उन्‍होंने कहा कि भारत के मुसलमान को कोई माई का लाल छू भी नहीं सकता है जबकि उन्‍होंने विपक्षी पार्टियों खासकर कांग्रेस पर तीखे हमले करते हुए कहा कि सीएए (CAA) को लेकर विरोधी भ्रम फैला रहे हैं, लेकिन जनता अब उनकी हकीकत जान चुकी है. जनजागरण रैली को संबोधित करते हुए राजनाथ ने कहा कि भारत के मुसलमान को कोई भी नहीं छू पाएगा और अगर कोई ऐसा करता है तो पीड़ित उनके पास आएं.

राजनाथ सिंह ने कहा कि हमने सीएए लाने का वादा किया था. हम लोगों ने इस बिल को पेश और पास किया. हमने कोई अपराध नहीं किया. इसको हिंदू-मुस्लिम के रूप में देखा जाने लगा. हमारे पीएम का नारा है- सबका साथ सबका विश्वास. कुछ ताकतें इसका विरोध कर रही हैं. महात्मा गांधी ने कहा था कि धर्म के आधार पर देश का बंटवारा नहीं होना चाहिए. महात्मा गांधी ने कहा था कि अगर किसी का उत्पीड़न होगा तो उसको नागरिकता देनी चाहिए और वही हमने किया जो महात्मा गांधी ने कहा था.

मनमोहन सिंह ने भी कहा था कि सरकार को संवेदनशीलता दिखानी चाहिए. जो कांग्रेस ने कहा वही हमने किया. क्या हमने अपराध किया है? ये नारे लगते हैं भारत तेरे टुक़ड़े टुकड़े होंगे. ये अधिकार किसने दिया. भारत ताकतवर हो रहा है और मस्‍तक ऊंचा हो रहा है. फिर भी नागरिकता कानून का विरोध कर रहे हैं. हम कभी भी किसी धर्म को लेकर भेदभाव नहीं करते हैं. हमने पूरे विश्व को अपना परिवार माना है. बदनाम करने की कोशिश की जा रही है.

उन्‍होंने कहा कि NPR हमने नहीं बनाया है, कांग्रेस ने बनाया है, क्या देश की जनता का रजिस्‍टर नहीं होना चाहिए. देश के मुसलमान को कोई माई का लाल नहीं छू सकता है. हम इंसानियत को छोड़ कर राजनीतिक नहीं करते हैं. हम सबको साथ लेकर चलते हैं. हम राजनीति देश बनाने के लिए करते हैं, नफरत पैदा करने की राजनीति नहीं करते हैं. कांग्रेस के लोग देश की जनता में नफरत पैदा कर रहे हैं.

राजनाथ सिंह ने कहा कि NPR के बारे में आप जो बताना चाहते हैं उसको नोट कर लिया जाएगा. आप पर कोई दबाव नहीं दिया जाएगा. NRC नाम की चिड़िया आजादी से पहले हुई थी. SC के निर्णय के बाद NRC हुआ है. इनकी साजिश को समझिए, ये देश की जनता में धूल झोंक कर अपनी राजनीति पूरा करना चाहते हैं. जिन देशों का अपना धर्म है, वहीं पर धार्मिक अल्पसंख्यकों का उत्पीड़न होगा. पाकिस्‍तान, बांग्‍लादेश, अफगानिस्‍तान में अगर उनका उत्पीड़न होगा और भारत आते हैं तो उनको नागरिकता देंगे. जो ताकतें इस प्रकार का भ्रम पैदा करने की कोशिश करती हैं, उनके बहकावे में नहीं आएं. कुछ ताकतें तनाव पैदा करके अपनी राजनीतिक हित साधना चाहती हैं.

उन्‍होंने कहा कि हम हिन्दुस्तान के अंदर, आपके अंदर दहशत पैदा करके नहीं जीतना चाहते है. दिलों को जीत कर जीतना चाहते हैं. हमने जो वचन दिया है वो पूरा करेंगे, 2022 तक एक भी परिवार नहीं रहेगा जिसके सिर पर छत नहीं हो. कई ऐसे कदम उठाएं हैं. 2024 तक- आपके घर में नल से जल पहुंचाएंगे. कुछ वादे और किए हैं…हमने वादा किया था धारा 370 हटाएंगे. जब हमारी सरकार बनी, ज्यादा समय नहीं लगाया धारा 370 हटा दिया.. समय गुजर गया लेकिन धारा 370 नहीं खत्म हुआ था. विरोधी ताकतें इसका इस्तेमाल करती थीं. हमारे पीएम ने चुटकी बजाकर इसको खत्म कर दिया.

राजनाथ सिंह ने कहा कि मेरठ क्रान्तिकारियों की धरती है. इसकी अहमियत को भाजपा समझती है. उन्होंने कहा कि रैलियों का शुभारम्भ 2014 और 2017 में यहीं से किया था. पहले भी जनता ने हमें अपना पूरा समर्थन दिया था और आज भी वही हालात दिख रहे हैं. इसके साथ उन्होंने कहा कि मोहिद्दिनपुर और रमाला चीनी मिल की हालत सुधरी है, लिहाजा किसानों की एक एक पाई का भुगतान किया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *