रुदौली:सामूहिक विवाह : यहां गरीब कन्याओं ने और मजबूत कर दिया हिन्दू-मुस्लिम के बीच की डोर

0

सामूहिक विवाह : यहां गरीब कन्याओं ने और मजबूत कर दिया हिन्दू-मुस्लिम के बीच की डोर

एक ही मंच पर जीवन भर के लिए एक-दूजे के हुए 186 जोड़े

कायम हुई मिसाल,गवाह बना का नेवरा गांव स्थित सरकारी शैक्षिक संस्थान

मवई(अयोध्या) ! मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भले ही हिन्दुत्व के लिए जाने जाते हैं।लेकिन गरीब कन्याओं के ब्याह के लिए उनकी मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत एक ही मंच पर हिन्दू-मुस्लिम कन्याएं वैवाहिक बंधन में बंध गईं।इन गरीब कन्याओं ने हिन्दू-मुस्लिम के बीच के डोर को और मजबूत करते हुए गंगा-जमुनी तहजीब को हमेशा के लिए यादगार बना दिया।इसका गवाह बने रुदौली के विधायक और पूरा प्रशासनिक अमला।
मंगलवार को मवई ब्लॉक क्षेत्र के नेवरा गांव में सामूहिक विवाह में न सिर्फ हिन्दू गरीब कन्याओं की शादी संपन्न हुई। बल्कि मुस्लिम पर्दानशीन कन्याओं का निकाह भी हुआ। बाद में एक ही मंच पर जयमाला भी पहनाया गया। इस दौरान विधायक रामचंद्र यादव स्वयं पुष्प वर्षा कर ही रहे थे।साथ ही पूरा प्रशासनिक अमला घराती की वेष में फूल बरसा रहा था।इतना ही नहीं बाबा बाजार क्षेत्र की प्रदिद्ध गायिका पूजा कौशल अपने सहयोगी कलाकारों के साथ वैवाहिक गीतों से समां बांधे हुई थी।यहां 186 वर-वधुओं का विवाह धूमधाम से संपन्न हुआ। उसमें 4 जोड़े मुस्लिम वर-वधू भी शामिल थे। अंत में विधायक ने विवाह की सामग्री दान कर वर-वधुओं को खुशहाल जीवन का आशीर्वाद दिया। इससे पहले उन्होंने मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना का बखान किया। बोले, शहर की भांति अब गांवों के गरीब परिवारों को सामूहिक विवाह समारोह में अपनी बेटियों को वैवाहिक रस्मों में बांधने में बेहिचक आगे आना चाहिए।सरकार का पूरा फोकस गरीबों व किसान पर है।विधायक ने विगत माह 28 अक्टूबर को जखौली गांव में आयोजित सामूहिक विवाह कार्यक्रम की सराहना करते हुए विकास विभाग व प्रशानिक विभाग के अफसरों का आभार प्रकट किया।इस कार्यक्रम में राम प्रेस यादव तेज तिवारी अंजनी साहू संतोष मिश्रा निर्मल शर्मा पंकज जायसवाल देवरावत विक्रमा यादव दिनेश यादव राकेश यादव प्रवेश पांडेय के अलावा एडीओ पंचायत रविन्द्र वर्मा विजय गौतम ललित तिवारी धर्मेंद्र सिंह शिव गोविंद पांडेय राजेश शर्मा आदि मौजूद रहे।

हर कुछ व्यवस्थित करने में जुटे रहे अफसर

यूं तो विकास विभाग के सभी अधिकारी कर्मचारी इस कार्यक्रम को सफल बनाने में जुटे रहे।लेकिन रूदौली के एडीओ आइएसबी भगवानदीन व मवई के तकनीकी सहायक आशीष तिवारी सामूहिक विवाह के अच्छे जानकार माने जाते हैं।इसी वजह से बीडीओ अखिलेश गुप्त ने इन दोनों को इस कार्यक्रम की विशेष जिम्मेदारी सौंपीं थी।वर पक्ष की पूरी खातिरदारी वैसे ही की गई थी।जैसे सामान्य लोगों के यहां शादी समारोहों में होती है।यहां भव्य पंडाल के साथ ही बेहतरीन विवाद पंडप बनवाया गया था।घराती व बाराती के लिए चाय नास्ता व स्वादिष्ट भोजन की व्यवस्था की गई थी।मवई व पटरंगा एसओ अपनी पुलिस के साथ सुरक्षा व्यवस्था में जुटे रहे।एसडीएम स्वप्निल यादव भी पूरी व्यवस्था पर अपनी पैनी नजर बनाए रहे।

एक अलग ड्रेस में कार्यक्रम में जुटी रही समूह की बहनें

इस सामूहिक कार्यक्रम में गुलाबी वस्त्र पहने स्वयं सहायता समूह की लगभग तीन दर्जन महिलाओं ने भी खूब मेहनत की।वर व कन्या पक्ष के स्वागत से लेकर खाना पानी हर जगह इन महिलाओं ने अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।जिसकी सराहना कार्यक्रम में मौजूद जनप्रतिनिधियों के अलावा अफसरों ने भी की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News