जानवरों की तरह बच्चे पैदा करने से देश का नुकसान :वसीम रिजवी

लखनऊ
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ चीफ मोहन भागवत के उस बयान के बाद बहस गरम हो गई है, जिसमें उन्होंने कहा था कि दो बच्चों का कानून बनाया जाएगा। अब इसी पर यूपी शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने कहा है कि कुछ लोग यह नहीं समझते हैं कि जानवरों की तरह कई बच्चे पैदा करना समाज और देश के लिए नुकसानदायक है। उन्होंने कहा कि अगर जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू होता है तो यह देश के लिए अच्छा होगा।

जनसंख्या नियंत्रण पर संभावित कानून का समर्थन करते हुए वसीम रिजवी ने कहा, ‘कुछ लोग मानते हैं कि बच्चों का जन्म प्राकृतिक है और इससे कोई छेड़छाड़ नहीं करनी चाहिए। जानवरों की तरह कई बच्चों को जन्म देना समाज और देश के लिए काफी हानिकारक है। अगर यह कानून लागू होता है तो यह देश की जनसंख्या पर काबू पाने के लिए बेहतर होगा।’
इससे पहले आरएसएस चीफ मोहन भागवत ने कहा था कि जनसंख्या नियंत्रण के तहत दो बच्चों के कानून को आरएसएस का समर्थन रहेगा। हालांकि, साथ ही उन्होंने यह भी कहा था कि इस मुद्दे पर सरकार को फैसला लेना है। संघ प्रमुख मोहन भागवत ने यह भी कहा था कि काशी और मथुरा का मुद्दा आरएसएस के अजेंडे में नहीं है।

मोहन भागवत के इसी बयान पर चुटकी लेते हुए हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने कहा था, ‘मोहन भागवत ने बयान दिया कि दो बच्चों का कानून बनाएंगे, अरे तुमने नौकरियां कितने बच्चों को दी है, वह बोलो न। साल 2018 में हर रोज 36 बच्चों ने खुदकुशी की उस पर क्या बोलेंगे आप?’ ओवैसी ने कहा कि भारत में 60 प्रतिशत आबादी 40 साल से कम उम्र के लोगों की है, ये उनकी बात नहीं करेंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News