बारिश की फुहार से रौ में आ गई ठंड,किसान चिंतित,हवाओं की जुगलबंदी ने कंपकपी ठंड का कराया एहसास

बर्फीली ठंड के चलते दिनभर अलाव व रजाई से चिपके रहे लोग

मवई(अयोध्या) ! विकासखंड मवई क्षेत्र में यूँ तो दिसंबर माह के पहले सप्ताह से ही मौसम ने करवट लेनी शुरू कर दी थी।लेकिन गुरुवार को पूरे दिन छाई बदली फिर देर शाम व शुक्रवार की भोर हुई बारिश से ठंड अपने पूरे रौ में आ चुकी है।दिन भर का आलम ये रहा कि आसमान में बदली छाई रही।सूर्य देव का भी बादलों के बीच लुका छिपी जारी रहा।ऊपर से हवाओं की जुगलबंदी कंपकपी ठंड का एहसास करा रही थी।जिसके चलते जहां गेंहूँ की बुवाई कर रहे किसानों के चेहरों पर साफ उदासी नजर आई।वही स्कूल जाने वाले बच्चों से लेकर नौकरी पेशा वाले वाले लोग भी अपने घरों से निकलने की हिम्मत नही जुटा पाए।जो किसी तरह संस्थानों कार्यालयों में पहुंचे तो अलाव के सहारे पूरे दिन चिपके ही नजर आए।थाना चौकी ब्लॉक सीएचसी पर भी सन्नाटा देखने को मिला।किसानों का मानना है कि बारिश की फुहार व बदली की वजह से गेंहूँ का अंकुरण देर से निकलेगा।साथ ही पैदावार पर भी असर पड़ने की संभावना है।
बता दे कि बुधवार की शाम से शुरू हुई बर्फीली ठंड के बाद अगले दिन गुरुवार की दोपहर तक सूर्योदय की कृपा से थोड़ा राहत जरूर महसूस की।लेकिन देर रात से शुरू हुई बारिश की बूंदों ने शुक्रवार की भोर लोगो को ठंड व गलन का एहसास करा दिया।आसमान में पूरे दिन छाई बदली के बीच दिन भर चली तेज हवा दिन चढ़ने के साथ ही बर्फीली ठंड का एहसास करा रही थी।किसान राम लौटन राम खेलावन प्यारे लाल ने बताया कि गेहूं बुवाई के लिए जिन किसानों ने खेतों की छपाई कर दी है।उसमें धूप न मिलने के कारण बुवाई लायक नमी खेत को न मिलने की वजह से देरी होगी।जिससे उत्पादन में भी कमी आएगी।

परिषदीय विद्यालयों का बदला समय

शुक्रवार से बारिश के साथ शुरू हुई भीषण ठंड एवं गलन भरी सर्दी में भी क्षेत्र के सभी निजी एवं परिषदीय विदयालय खुले रहे।कुछ बच्चे भी ठिठुरते हुए किसी तरह स्कूल पहुंचे।हालाँकि अधिकतम स्कूलों में बच्चों को ठंड से बचाने के लिये अलाव की व्यवस्था रही।इस बाबत मवई के बीईओ अरुण वर्मा ने बताया कि विद्यालय बंद करने का कोई आदेश शासन स्तर से नही आया है।इसलिये सारे विद्यालय खुले रहे।हा विद्यालय खुलने व बंद होने का परिवर्तन जरूर हुआ है।ठंड गलन को देखते हुए बेसिक शिक्षा अधिकारी ने समय परिवर्तन करते हुए सुबह दस बजे से दोपहर 3 बजे तक शिक्षण व्यवस्था संचालित करने का निर्देश पूरे जिले के प्राथमिक व पूर्व माध्यमिक विद्यालयों के लिए जारी किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News