केजरीवाल सरकार को 16 महीने बाद आई अंकित सक्सेना की याद, दिया 15 लाख का मुआवजा

चौतरफा आलोचनाओं से घिरी दिल्ली की केजरीवाल सरकार को आख़िरकार अंकित सक्सेना के परिवार की सुध आ ही गई. फजीयत झेल रही दिल्ली सरकार की तरफ से उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने अंकित सक्सेना (Ankit Saxena) के परिवार को 15 लाख का चैक सौंपा है. पिछले साल अंकित सक्सेना के मर्डर के बाद केजरीवाल सरकार ने पीड़ित परिवार को 5 लाख की मदद का ऐलान किया था. 1 साल बीत जाने के बाद भी जब परिवार को कोई मदद नहीं मिली तो आम आदमी पार्टी के पूर्व सदस्य कपिल मिश्रा (Kapil Mishra )ने आवाज उठाई. कपिल ने केजरीवाल को झूठा और धोखेबाज तक कह दिया था.

कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर लिखा था, ” अंकित सक्सेना के परिवार को केजरीवाल ने पांच लाख रुपये देने का वादा किया था- दिया केवल धोखा और झूठ AAP के नेताओं ने अंकित सक्सेना के पिता से इफ़्तार पार्टी करवाई जो हिन्दू साथ देने आए उन्हें सेक्युलरिम समझाया गया केजरीवाल ने हिन्दू परिवार को धोखा देना था – धोखा दे दिया”

केजरीवाल सरकार ने अभी तक नहीं दिया कोई वकील

सिसोदिया से अंकित के पिता ने कहा कि ‘हमने उनसे मांग की है कि हमें अच्छे वकील दिलाया जाए जिससे के गुनहगारों को फांसी की सजा हो सके’. वो आगे बोले कि सालभर पहले भी मैंने ये मांग रखी थी. केजरीवाल ने तब आश्वासन भी दिया था लेकिन अब तक वकील मिला नहीं. एक बार फिर बात की है बेहतर वकील के लिए और फिर से डिप्टी सीएम से आश्वासन भी मिला है.

क्या है अंकित सक्सेना मर्डर ?

पिछले साल फरवरी माह में पेशे से फोटोग्राफर अंकित सक्सेना की गला काटकर हत्या कर दी गयी थी. अंकित एक मुस्लिम लड़की से प्यार करता था जो कि उसके परिवार को नागवार गुजरा और लडकी के पिता ने चाक़ू से अंकित का गाला काट दिया था, जिसके कारण उनकी मृत्यु हो गयी थी. इस घटना ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया था जिसके बाद केजरीवाल सरकार ने अंकित परिवार को 5 लाख रुपये की आर्थिक मदद और कानूनी सहायता देने का एलान किया था लेकिन पीड़ित परिवार को मुआवजा आज तक नहीं मिला है. ऐसे में सवाल उठाना लाजिमी था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News