अयोध्या : तो 35 लाख की रंगदारी मांगने के लिये शोरूम मालिक पर हमलावरों ने की थी फायरिंग

फैज़ाबाद ! मद्रास हैंडलूम के मालिक गोपीलाल मोटवानी पर हुए जानलेवा हमले के मामले में पुलिस ने एक हमलावर को गिरफ्तार कर घटना का खुलासा किया।एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने घटना का खुलासा करते हुए बताया कि सिटी स्टेशन के पास से एक हमलावर को गिरफ्तार किया गया है।इसने अपने एक अन्य साथी के साथ 15 दिन पूर्व कपड़ा व्यवसाई गोपीलाल मोटवानी पर फायरिंग की थी।जिसमे कपड़ा व्यवसाई बाल बाल बचे थे।कोतवाली नगर के रीडगंज इलाके में की थी फायरिंग।उसके बाद 35 लाख रुपए की रंगदारी मांग रहा था हमलावर।
बता दे नगर कोतवाली क्षेत्र के मनूचा कॉलोनी निवासी गोपालाल के अनुसार 11 मई की रात लगभग नौ बजे वह अपना शोरूम बंद कर स्कूटर से घर जा रहे थे।कोहिनूर पैलेस के निकट बाइक सवार दो अज्ञात युवकों ने उन्हें ओवरटेक करते हुए उनके ऊपर जान से मारने की नियत से फायर कर दिया। संयोगवश गोली उन्हें नहीं लगी और बगल से निकल गई। श्री मोटवानी के अनुसार फायर करने के बाद आरोपी आगे चले गए।फायरिंग की आवाज सुनकर भीड़ इकठ्ठा हो गई।इन्होंने घटना की लिखित सूचना पुलिस को दी थी।पुलिस ने हत्या की कोशिश के मामले में अज्ञात हमलावरों के खिलाफ केस दर्ज कर पड़ताल शुरू कर दिया है।वारदात स्थल के बाद पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज भी खंगाला था।आज मंगलवार को एसएसपी द्वारा की गई प्रेसवार्ता में घटना का अनावरण करते हुए बताया कि पूँछताक्ष के दौरान गिरफ्तार हमलावर आकाश चौहान ने बताया कि वर्ष 2015 में वो बलात्कार के मामले में इनायतनगर थाने से जेल गया था।जहां पर उसकी मुलाकात लूट के मामले में जेल में बंद आदित्य कुमार से हुई।दोनो जेल से छूटने के बाद दस मई को कचहरी के समीप मिले और रंगदारी के लिये इन दोनों ने कपड़ा व्यवसाई पर हमले की रणनीति बनाई।और तय रणनीति के तहत घटना को अंजाम देकर मामला शांत होने तक ये दोनों शहर छोड़ फरार हो गए।जब मामला शांत हो गया तो ये दोनों 24 मई को पुनः फैज़ाबाद आये और व्यवसाई से मिलकर 35 लाख रुपये की रंगदारी मांगी।न देने पर गोली सीधे खोपड़ी में मारने की धमकी देकर आचार्य नरेंद्र देव स्टेशन के पीछे मिलने को कहा।आकाश अपनी मोटरसाइकिल से वहां आया और अपने साथी का इंतजार कर ही रहा था कि मुखविर की सटीक सूचना पर पुलिस टीम ने उसे गिरफ्तार कर लिया।सीओ सिटी अरविंद चौरसिया के पर्यवेक्षण में गिरफ्तार करने वाली टीम में चौकी प्रभारी संजीव कुमार सिंह,अजय कुमार सिंह,विजयन्त मिश्र,वीरेंद्र कुमार पाल,रणविजय प्रताप सिंह,व कांस्टेबल जितेंद्र कुमार सरोज जीतू सामिल रहे।एसएसपी ने बताया कि इनायतनगर थाना क्षेत्र निवासी आकाश को जेल भेज दिया गया।मामले में फरार आदित्य की तलाश की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News