लखीमपुर:ज्यादा बाराती लाने पर लड़की वालों ने बारातियों का किया ये हाल

लखीमपुर:ज्यादा बाराती लाने पर लड़की वालों ने बारातियों का किया ये हाल

लखीमपुर खीरी ! उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी के फूलबेहड़ थाना क्षेत्र के एक गांव में बाराती ज्यादा होने पर लड़की पक्ष व बरातियों में जमकर मारपीट हो गई। मारपीट में दूल्हा और दूल्हे के मामा सहित चार लोग घायल हो गए। बारात बिना दुल्हन के ही लौट गई।
फूलबेहड़ थाना क्षेत्र के सैदीपुर गांव निवासी राजकुमार के 30 वर्षीय पुत्र विशाल की बारात शुक्रवार की शाम पड़ोस के गांव पिपरा मरोड़ा निवासी जगन्नाथ के घर गई थी। बारात में 50 बरातियों की मांग लड़की के पिता ने अपनी हैसियत के हिसाब से की थी, लेकिन दूल्हा पक्ष के लोग 300 बराती लेकर दुल्हन के घर पर पहुंच गए। दुल्हन के पिता ने जब इतने बराती देखे तो उनके होश उड़ गए। बरातियों के साथ आई डीजे पार्टी के ठहरने के इंतजाम करने के बाद बरातियों के बैठने की व्यवस्था में लोग लगे हुए थे कि तभी दुल्हन और दूल्हे पक्ष में कहासुनी होने लगी। कहासुनी इतनी बढ़ी की मारपीट की नौबत आ गई। मारपीट में दूल्हे के मामा लालजी, घुरई , तेजबहादुर श्रीकृद और उमेश घायल हो गए। मारपीट की सूचना डायल 100 और चौकी पुलिस को दी लेकिन घंटों बीत जाने के बाद भी पुलिस नही पहुंची तो दूल्हे के साथ बारात में आई गाड़ी से घायलों को जिला अस्पताल ले जाया गया, जिसमें लालजी की हालत गंभीर होने पर भर्ती कर लिया और बाकी सभी लोगों को उपचार के बाद घर भेज दिया। मारपीट में दूल्हे ने अपने 75 वर्षीय ससुर जगन्नाथ को भी मारा और मौके से भाग निकला। बाराती भी मौका पाकर दुल्हन के घर से भाग निकले। बारात बिना शादी किए ही लौट गई। दुल्हन के पिता जगन्नाथ ने बताया कि एक वर्ष पहले शादी तय हुई थी। शादी से पहले 20 मई को तिलक समारोह में बाइक, 20 हजार नकदी और 14 हजार के बर्तन दिए थे। लाखों रुपये का दहेज भी खरीद कर रखा था, लेकिन बराती ज्यादा होने से इंतजाम में कुछ देरी हुई तो आते ही कुछ लोग लड़ाई करने लगे। खाने का सारा सामान भी फेंक दिया। उधर, दूल्हे के पिता राजकुमार ने बताया की सिर्फ 10 बाराती ज्यादा हो गए थे। गांव से सिर्फ दो किलोमीटर दूर होने से सभी लोग पैदल ही चले गए, जिनमें कुछ बच्चे ज्यादा हो गए थे इसीलिए बारात में मारपीट हुई और बारात लौट आई। पुलिस ने इस मामले में गांव तक जाना भी उचित नहीं समझा। घंटों तक पीड़ित इंतजार करते रहे और पुलिस नहीं पहुंची। चौकी इंचार्ज सुन्दरवल सुनील सिंह ने बताया की बीते शुक्रवार की रात पिपरा मरोड़ा गांव को बारात गई थी। बाराती कुछ ज्यादा होने से मारपीट हुई है। मारपीट में कुछ लोगों को चोटे भी आई हैं। अभी किसी भी पक्ष से तहरीर नहीं मिली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News