मंगल दिवस सुमंगल बंधन में बंधी पांच गरीब कन्याएं,रुदौली के रामलीला मैदान में‌ सामूहिक विवाह,विधायक रामचंद्र यादव ने वर-वधुओं को‌ दिया जीवन भर खुश रहने का आशीर्वाद

नयागंज पुलिस चौकी इंचार्ज आईपी यादव ने की बारातियों की अगुवानी,सामान्य लोगों की तरह धूमधाम से निपटा पांच जोड़ों का विवाह।

गायत्री परिवार ने गरीब कन्याओं को परिणय सूत्र में बंधवाया,गरीब कन्याओं के ब्याह में घराती बने रुदौलीवासी।

अर्जुन यादव-ब्यूरो रिपोर्ट

रुदौली(अयोध्या) !कहते हैं कन्या दान से बड़ा कोई दान नहीं। गायत्री परिवार के मंच पर जब पांच जोड़े जीवनभर के लिए एक-दूजे के होने लगे तो लोगों ने खूब कन्या दान किया। इन गरीब कन्याओं का विवाह सामान्य लोगों की तरह बड़े धूमधाम से निपटा। यहां रुदौली वासियों ने घरातियों की भूमिका निभाई। इतना ही नहीं नयागंज चौकी की पुलिस ने बारातियों की अगुवानी की। विधायक रामचंद्र यादव ने वर-वधुओं को जीवन भर खुश रहने का आशीर्वाद दिया।
मंगल दिन और मौका था गायत्री परिवार के मंच पर पांच वर-वधुओं के वैवाहिक उत्सव का।

रुदौली के रामलीला‌ मैदान को कोठी से नयागंज चौकी तक पूरी तरीके से दुल्हन की तरह सजाया गया था। पांच वर-वधुओं के विवाह की रस्मों के लिए पांच अलग-अलग शादी के मंडप बनाए गये थे। सामूहिक विवाह में पूरी रुदौली यहां घरातियों की भूमिका में नजर आया। वर पक्षों की खातिरदारी में वह हर कोई जुटा दिखा, जो यहां आमंत्रित था। गायत्री परिवार के मुख्य आयोजक सुरेश यज्ञसैनी, मृदुल मनोहर, राजेश बंसल, कमलेश मिश्र व राजेश मिश्र ने स्वागत से लेकर सभी रस्म अदायगी बड़े धूमधाम से संपन्न कराया।

हनुमान मंदिर में माथा टेक घोड़े से निकली बारात

सामूहिक विवाह में बारात निकलने पहले सभी दूल्हों ने किला तिराहे पर स्थित हनुमान मंदिर में जाकर माथा टेका। इसके बाद घोड़े पर चढ़कर बारात रामलीला मैदान के लिए निकली। बतासा वाली गली होते यहां बारात पहुंची तो रास्ते भर में फूलों की वर्षा हुई। नयागंज चौकी इंचार्ज इंदरू प्रसाद यादव ने बारात की अगुवानी किया।

दुल्हनों को स्पेशल ब्यूटी पार्लरिस्टों ने सजाया

यहां पांच कन्याओं की शादी में कन्याओं को सजाने के लिए स्पेशल ब्यूटी पार्लरिस्टों को बुलाया गया था। ये पार्लरिस्ट नि:शुल्क थीं। हर साल की भांति इस वर्ष भी दुल्हनों को सजाने के बाद जयमाल कार्यक्रम भी संपन्न हुआ। घरातियों व बरातियों के लिए गृहपान व भोजन की भी व्यवस्था गायत्री परिवार की ओर से की गई थी।

कन्याओं के विदाई में रो पड़ी रुदौली

रुदौली के रामलीला मैदान में पांच जोड़ों की शादी की रस्में पूरी हुईं। पांव पुजाई की रस्म भी पूरी की गई। गायत्री परिवार के अलावा आमजन ने भी पांव पुजाई के मौके पर कन्यादान किया। इन्हें गृहस्थी के सामान‌ दान दिये गये।

गृहस्थी के हर सामान मिले दान

एक सामान्य परिवार की तरह यहां सभी पांच गरीब कन्याओं को दान में गृहस्थी के हर सामान दिए गये। वधुओं को आभूषण और आलमारी, बेड, पंखा, बक्शा, मैकप किट, बर्तन, ब्लैंकेट, रजाई-गद्दा, चादर आदि शामिल था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News