राष्ट्रीय राजमार्ग पर मिला खून से लथपथ अज्ञात युवक का शव,पुलिस में मान रही हादसा जबकि राहगीर जता रहे हत्या कर फेंके जाने की आशंका।

पटरंगा थाना क्षेत्र में कुशहरी जंगल के सामने हाइवे पर मिली लाश।

पटरंगा(फैजाबाद) ! जिले की पश्चिमी सीमा पर शनिवार की भोर एक अज्ञात नवयुवक की खून से लथपथ लाश हाइवे के लावारिश हालत में राहगीरों द्वारा देखी गई।सुबह सात बजे तक पुलिस को इसकी भनक तक नही लगी।आस पास के ग्रामीणों ने इसकी सूचना इलाकाई पुलिस को दी।तो सुबह लगभग आठ बजे हल्के के दरोगा राम आशीष यादव व सिपाही विजय कुमार मौके पर पहुंच शव की शिनाख्त कराने की कोशिश की।लेकिन शव की शिनाख्त नही हो पाई।हल्का दरोगा ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा के बाद पीएम के जिला मुख्यालय भेज दिया है।
बता दे कि पटरंगा थाना अन्तर्गत फैजाबाद-लखनऊ राष्ट्रीय राजमार्ग पर कुशहरी जंगल के सामने शनिवार की सुबह इस अज्ञात युवक की लाश लावारिश हालत में देखी गई।लगभग 26 वर्षीय इस युवक के शरीर पर एक चेक दार हल्का नीला शर्ट व बैगनी कलर का अंडरवियर था।सर पर गहरी चोट लगने से खून बहा हुआ।इसके अलावा शरीर पर कोई खास चोट के निशान नही थे।पुलिस इसे हादसा मां रही।जबकि आस पास के ग्रामीण व राहगीरों ने तर्क देते हुए कहा शव को देखने से प्रतीत होता है कि ये युवक विक्षिप्त व अर्धविक्षिप्त भी नही है।इस क्षेत्र में कभी दिखा भी नही।पैर में चप्पल जूता भी नही।और सर के अलावा कही कोई खास चोट भी नही।जेब मे न कोई पहचान पत्र न कोई सामान।ऐसे में ग्रामीण पूर्व की घटनाओं का उदाहरण देते हुए कहा कि हो सकता है कि कोई इसकी हत्या कर शव यहां फेंक गया।क्योंकि सर पर जिस तरह गंभीर घाव है उतना खून भी नही निकला।ऐसे में राहगीरों की आशंका और भी अधिक हो गई।हालांकि पुलिस इसे हादसा ही मान रही।हल्का दरोगा राम आशीष यादव की माने तो शव को पीएम हाउस के मर्चरी में रखवाया गया है।शव की शिनाख्त के प्रयास किये जा रहे।पर अभी तक उसकी पहचान नही हो पाई है।

(बॉक्स)
घटना स्थल तक नही पहुंचे थाना प्रभारी।

पटरंगा थाना क्षेत्र में कोई हादसा हो या फिर कोई लाश मिले।थानाध्यक्ष घटना स्थल तक जाना मुनासिब नही समझते।इतना ही नही गांवो में इनका सूचना तंत्र भी इतना कमजोर हो गया है कि नहर में बहती इंसानो की लाश की भी सूचना इन्हें नही मिल पाती।जबकि गांवो में हो रही घटनाओं आदि की गोपनीय सूचना देने के लिये हर गांव में चौकीदार तैनात है।तुरंत घटना की सूचना पर पहुंचने के लिये प्रत्येक हल्के में एक दरोगा एक अंडर ट्रेनिंग दरोगा व एक दो सिपाही तैनात है।बावजूद यहां की पुलिस को आस पास की घटनाओं की सूचना या तो देर मिलती है या मिल ही नही पाती।या फिर सूचना मिलने के बाद उसे बला समझकर टालती रहती है।शनिवार की भोर राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक युवक की खून से लथपथ लावारिश लाश को ग्रामीण देखते है।घटनास्थल से चौकी दो किलोमीटर व थाना पांच किलोमीटर बावजूद यहां की पुलिस आठ बजे पहुंचती है।इससे पूर्व इसी थाना क्षेत्र से दर्जनों गांवों के किनारे से नहर के रास्ते अर्धनग्न महिला का शव बहते आगे निकल गई और यहां की पुलिस को भनक तक नही लगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News