अयोध्या : वन विभाग व एलएसडीपी पब्लिक स्कूल के संयुक्त प्रयास से वन महोत्सव का हुआ आयोजन

अयोध्या : वन विभाग व एलएसडीपी पब्लिक स्कूल के संयुक्त प्रयास से वन महोत्सव का हुआ आयोजन

आने वाले कल के लिए कम से कम एक पौधा अवश्य लगाए – एसडीएम रुदौली

रुदौली(अयोध्या) !वन क्षेत्राधिकारी रुदौली व एलएसडीपी पब्लिक स्कूल के संयुक्त तत्वावधान में वन महोत्सव का आयोजन बुधवार को स्कूल परिसर में किया गया।जिसका शुभारंभ।उपजिलाधिकारी रुदौली विपिन सिंह,वन क्षेत्राधिकारी ओम प्रकाश ,तहसीलदार प्रज्ञा सिंह व विद्यालय के संस्थापक धर्मदत्त पाठक ने संयुक्त रूप से वृक्षारोपण कर किया।इस दौरान एसडीएम ने उपस्थित सभी लोगों को पौधे को वृक्ष बनने तक परवरिश करने की शपथ भी दिलाई।कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यातिथि उपजिलाधिकारी विपिन सिंह ने कहा कि जुलाई माह में देश में करोड़ो की संख्या में पेड़-पौधे लगाए जाते हैं। कुछ सालों में जंगलों और वृक्षों की हो रही अंधाधुंध कटाई के कारण वातावरण का संतुलन बिगड़ गया है और मौसम में काफी बदलाव आ गया है तथा लगातार तापमान में बढ़ोतरी हो रही है को देखते हुए पौधा लगाना अनिवार्य हो गया है।माननीय मुख्यमंत्री जी ने प्रदेश की आबादी के बराबर लगभग 25 करोड़ पौधे रोपित करने का लक्ष्य रखा है।जिसके क्रम में वन विभाग लगातार पौध रोपण करने में लगा है।उन्होंने कहा कि पौधे हमारे जीवन में अहम भूमिका निभाते हैं। भविष्य में वातावरण को संतुलित बनाए रखने के लिए पौधे लगाना आवश्यक है।वन क्षेत्राधिकारी ओम प्रकाश ने कहा कि प्रदेश सरकार ने 25 करोड़ पौधे रोपित करने का लक्ष्य लिया है, जिसके सापेक्ष रुदौली वन क्षेत्र में लगभग 8 करोड़ पौधे रोपित किये जाने हैं, जिसमे से पांच लाख एक सौ पचास पौधे वन विभाग रोपित करेगा,शेष अन्य विभागों की मदद से रोपित किया जाएगा। वृक्ष ही भूमि को बंजर होने से रोकते हैं और हमें अनेक प्रकार की जड़ी बूटियां भी इनसे ही मिलती हैं।
उन्होंने कहा कि वन महोत्सव का मुख्य उद्देश्य लोगों को पौध रोपण व वन संरक्षण के लिए जागरूक करना है।तहसीलदार रुदौली प्रज्ञा सिंह ने कहा कि वन महोत्सव कार्यक्रम की आवश्यकता हम सभी को जागरूक करने के लिए होती है,हम सभी को स्वय से जागरूक होकर कम से कम एक पौधे को अवश्य रोपित करना चाहिए,जिससे हमें आने वाले समय मे परेशानी न उठानी पड़े। स्कूल प्रबंधक अनिल पाठक ने बताया कि सन 1950 में वन महोत्सव मनाए जाने की शुरूआत हुई थी।उन्होंने कहा कि पेड़ों की अंधाधुंध कटाई के कारण केवल पर्यावरण को ही नुकसान नहीं हुआ बल्कि जीव जंतु भी समाप्त हो रहे हैं।विद्यालय के प्रधानाचार्य आदित्य पाठक ने बताया कि विद्यालय प्रति वर्ष वन महोत्सव मनाता है और महोत्सव के अंतर्गत बच्चो व अभिभावकों से आह्वान किया जाता है कि वह कम से कम एक पौधा अवश्य लगाए।इस बार भी आज वन महोत्सव के दिन अभिभावकों व बच्चों को पेड़ लगाकर अपनी सेल्फ़ी भेजने के लिए प्रेरित किया गया है, पौधों के साथ सेल्फ़ी भेजने वाले सभी बच्चों को सर्टिफिकेट देकर प्रोत्साहित भी किया जाएगा।विद्यालय द्वारा इस बार अभिभावकों व बच्चों की मदद से एक हजार पेड़ लगाने का लक्ष्य लिया गया है।वन महोत्सव कार्यक्रम को फेसबुक एकाउंट से लाइव चलाकर लोगो को प्रेरित भी किया जा रहा है।कार्यक्रम के अंत मे विद्यालय के संस्थापक धर्मदत्त पाठक ने उपजिलाधिकारी विपिन सिंह को तुसली का पौधा भेंटकर सम्मानित भी किया।कार्यक्रम का संचालन उप प्रधानाचार्य नीरज द्विवेदी ने किया। इस दौरान कोऑर्डिनेटर आदित्य शर्मा,सीसीए इंचार्ज कृष्णा तिवारी,रंजीत शर्मा,वी के सिंह,विनोद कुमार दुबे,मो एखलाक,कामेश्वर मिश्रा, प्रवीण गिरी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News