अयोध्या : अपने दायित्वों का सभी भली-भाँति करें निर्वहन-डीएम

0

अयोध्या ! जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने बताया कि जनपद में कोरोना के पाॅजिटिव केस आने शुरू हो गए हैं और विभिन्न शहरों से भारी संख्या में लोग जनपद में आ भी रहे हैं। संभावना यह है कि बड़ी संख्या में करोना के पॉजिटिव केस आएंगे। शासन की गाइडलाइन के अनुसार बाहर से आने वाले प्रत्येक व्यक्ति के स्वास्थ्य परीक्षण के उपरांत उसे होम क्वारेण्टाइन में जाना है। कतिपय जगहों से यह खबर आ रही है कि गांव में कुछ लोगों के द्वारा इन्हें स्कूलों में ठहराया जा रहा है जो कि शासन की गाइडलाइन के विपरीत है। यहां पर भी शासन की गाइडलाइन का ही अनुपालन कराना है। उन्होंने कहा कि स्कूलों में अधिक संख्या में लोगों के इकट्ठा होने से सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन नहीं हो पाएगा।जिससे कोरोना महामारी के फैलने का खतरा और बढ़ेगा। जिलाधिकारी ने कहा कि किसी भी विद्यालय में बिना संबंधित उपजिलाधिकारी की अनुमति के किसी भी व्यक्ति को क्वॉरेण्टाइन न किया जाए।उन्होंने कहा कि बाहर से आने वाले सभी व्यक्ति स्वास्थ्य परीक्षण कराने के उपरांत अपने- अपने घरों में अलग कमरे में रहेंगे। इस दौरान उनके द्वारा अनिवार्य रूप से मास्क का भी प्रयोग किया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि होम क्वारेण्टाइन में रहने वाले लोगों को किसी प्रकार की समस्या ना हो, इसके लिए सरकार द्वारा उन्हें राशन किट भी प्रदान किया जा रहा है। जिलाधिकारी ने कहा कि कहीं-कहीं आपसी रंजिश व राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता के कारण लोगों को विद्यालयों में भेजा जा रहा है अथवा भेजने हेतु बारम्बार शिकायतें की जा रही हैं तथा आशा बहुओं पर दबाव बनाया जा रहा है जो औचित्य पूर्ण नहीं है। उन्होंने कहा कि उप जिलाधिकारी द्वारा स्कूलों में क्वॉरेंटाइन की अनुमति उसी को दी जाएगी जो व्यक्ति अपने घर पर होम क्वॉरेंटाइन के मानकों का पालन नहीं कर सकता हो।जिलाधिकारी श्री झा ने कहा कि इस समय महत्वपूर्ण है कि जनपद में कोविड-19 का कोई भी केस पाये जाने पर हम उससे फैलने वाली संख्या को नियन्त्रित कर उसे कलस्टर में नहीं बदलने दें। इसके लिए यह आवश्यक है कि ग्राम/मोहल्ला स्तर पर गठित ग्राम/मोहल्ला निगरानी समितियाँ उन्हें सौंपे गये दायित्वों का भली-भाँति निर्वहन करें तथा ब्लाॅक स्तर पर गठित ए0डी0ओ0 (पंचायत), मनरेगा व स्वच्छ भारत मिशन के आॅपरेटर, खण्ड प्रेरक की टीम बनाकर प्रत्येक दिन, प्रत्येक प्रधान/सचिव से बात करें। इसी तरह तहसील स्तर से भी रोजाना लेखपालों से वार्ता की जाय। स्वास्थ्य विभाग के स्तर से बी0सी0पी0एम0, बी0पी0एम0 व कम्प्यूटर आॅपरेटर के द्वारा रोजाना आशा बहू और ए0एन0एम0 से वार्ता की जाय।जिलाधिकारी ने कहा कि तीन प्रकार के व्यक्तियों यथा-कोरोना के लक्षण पाये जाने वाले व्यक्तियों, बाहर से बिना स्वास्थ्य परीक्षण के सीधे गाँव में आने वाले तथा होम क्वारेण्टाइन का उल्लंघन करने वाले की सूचना इन ब्लाॅक स्तरीय टीम द्वारा रोजाना जिला मुख्यालय स्तर पर डीपीआरओ सत्य प्रकाश सिंह, जिला समन्वयक, स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) दीपक सेन, मो0 नं0: 9598664477 व अविरल पाठक, मो0 नं0: 9565844756 को दिया जाय। यह संकलित सूचना स्वास्थ्य विभाग को तथा होम क्वारेण्टाइन का उल्लंघन करने वाले व्यक्तियों की सूचना पुलिस विभाग को दी जायेगी जिसके सम्बन्ध में सम्बन्धित विभाग द्वारा अपेक्षित कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। इसी प्रकार की कार्यवाही नगर निगम तथा अन्य पालिकाओं, नगर पंचायतों में सम्बन्धित अधिशाषी अधिकारी के माध्यम से की जायेगी।साथ ही कोरोना के नए मरीजों की पुष्टि के साथ यह और भी आवश्यक हो गया है कि लोग यथासम्भव अपने घरों में ही रहेंगे, अत्यावश्यक होने पर ही मास्क का प्रयोग करते हुए ही बाहर निकलेंगे तथा सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News