यूपी : छह लोगों की हत्या से दहला लखनऊ, जमीन के लिए भाई ही बना कसाई

लखनऊ ! यूपी के लखनऊ में बंथरा के गुदौली गांव में गुरुवार को जमीनी बंटवारे के विवाद में पिता-पुत्र ने अपने ही परिवार के छह लोगों की बांके से काट कर हत्या कर दी। दिल दहला देने वाली वारदात को अंजाम देने के बाद पिता-पुत्र खून से सना बांका लेकर घर की तरफ चल दिए। खेत में पिता, भाई, भाभी, भतीजी और भतीजे के शव फेंक कर भाग रहे आरोपियों के बारे में ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी।एसीपी कृष्णानगर दीपक सिंह ने बताया कि गुदौली निवासी अमर सिंह के दो बेटे अरुण सिंह व अजय सिंह हैं। अमर ने करीब बीस साल पहले अजय सिंह को परिवार से अलग कर दिया था। लेकिन वह जमीन पर अपना हक जताता था। तीन साल पहले करीब अमर ने तीन बिसवां जमीन बेची थी। अजय पिता से जमीन बेच कर हासिल हुए रुपयों में हिस्सा मांग रहा था। इसी बात को लेकर परिवार में विवाद चल रहा था।
गुरुवार को अजय सिंह ने बेटे अंकित के साथ मिल कर मां रामसखी की हत्या कर दी। इसके बाद पिता-पुत्र खेत में जा पहुंचे। जहां अमर सिंह बेटे अरुण, बहू रामदुलारी, पोती सारिका (2) व पोते सौरभ (9) के साथ मौजूद थे। अरुण व अंकित ने खेत में काम कर रहे अमर सिंह पर बांके से ताबड़तोड़ कई वार कर दिए। जान बचाने के लिए अमर शोर मचाने लगे। भाई और भतीजे को पिता पर हमला करते देख अरुण सिंह मदद के लिए दौड़ पड़े। इस पर पिता-पुत्र ने अमर सिंह और अरुण सिंह की हत्या कर दी। अरुण की पत्नी रामदुलारी ने आरोपियों से मोर्चा लेने का प्रयास किया। इस पर अजय ने भाभी, भतीजे और भतीजी को भी मौत के घाट उतार दिया

हत्या कर पहुंचा थाने

हत्या कर भाग रहे अजय और अंकित सिंह को ग्रामीणों ने घेरने का प्रयास किया था। इस बीच अजय सिंह भाग कर बंथरा थाने पहुंच गया। उसने पुलिस के सामने सनसनीखेज वारदात की हकीकत बयां की। जिसे सुन कर पुलिस कर्मी भी सन्न रह गए। आनन-फानन में अजय को हिरासत में लेकर पुलिस टीम गुदौली गांव रवाना हो गई। जहां से अमर सिंह, रामदुलारी, अरुण, रामसखी, सौरभ व सारिका के शव बरामद किए गए। इंस्पेक्टर बंथरा रमेश रावत ने बताया कि अजय व उसकी पत्नी रुपा को हिरासत में लिया गया है। वहीं फरार अंकित की तलाश की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News