अयोध्या :बटन मशरूम की खेती कर पायें अधिक लाभ-डा०प्रदीप कुमार

अमरजीत सिंह- ब्यूरो रिपोर्ट

कुमारगंज(अयोध्या) ! बटन मशरूम की खेती के लिए सबसे उपयुक्त समय अक्टूबर से मार्च के 6 महीनो में दो बार उगाया जा सकता है बटन मशरूम की खेती के लिए 22 से 26 डिग्री सेंटीग्रेड तापमान, फलन के समय 14 से 18 डिग्री तापमान तथा 80 से 50% नमी की जरूरत पड़ती है

बटन मशरूम के फायदे

बटन मशरूम में एंटीऑक्सीडेंट, रोग प्रतिरोधक, विटामिन डी का भी एक बहुत अच्छा स्रोत है बटन मशरूम में बहुत कम मात्रा में कार्बोहाइड्रेट होते हैं जिससे यह वजन और ब्लड शुगर लेवल नहीं बढ़ने देता बटन मशरूम में कई औषधीय गुण मौजूद होते हैं जिसकी वजह से यह सेहत के लिए फायदेमंद होता है मशरूम में जिंक और पोटेशियम प्रचुर मात्रा में होता है जो कि शारीरिक क्रियाओं को बेहतर तरीके से काम करने में मदद करते हैं कोलेस्ट्रोल को कम करता है हड्डियों को मजबूत बनाता है साथ ही साथ वजन कम करने में मदद करता है इसको विभिन्न तरीके से प्रयोग कर भरपूर लाभ लिया जा सकता है इसको सूप, मटर मशरूम, मशरूम पकोड़ द्वारा इसका उपयोग किया जाता है।साथ ही साथ बेरोजगार नवयुवक एंव नवयुवतियां को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराता है इसकी खेती के लिए सबसे पहले बटन मशरूम का बीज स्पान को कृषि विभाग बस्ती मशरूम प्रयोगशाला से सुनिश्चित कर ले इसके बाद गेहूं का भूसा को दो-तीन दिन भिगोकर इसमें डीएपी, यूरिया, पोटाश, गेहूं का चोकर, जिप्सम, कैल्शियम और कार्बोफयूराडॉन मिलाकर 30 दिन सड़ने के लिए छोड़ दें 4 से 5 दिन पर पलटते रहें 5 दिन बीत जाने के बाद उसमें गुड़ का शीरा मिला दे फिर 10 दिन बाद बाविष्टिन मिलाने के बाद एक-दो दिन के लिए फिर छोड़ दे और फिर कंपोस्ट तैयार हो जाने के 1 दिन बाद तत्पश्चात उसको रेक में 8 इंच तक भर दे इसके बाद एक कुंतल खाद में कम से कम 1 से 2 किलोग्राम बीज (स्पान ) से इसकी बिजाई कर दें एक हफ्ते बाद सफेद रंग का कवक जाल पूरे खाद में फैल जाएगा फिर केसिंग मिट्टी की परत 2 से 3 इंच तक चढ़ा कर कमरे का तापक्रम 16 से 18 डिग्री सेल्सियस पर ले आना चाहिए इस तापमान पर छोटी-छोटी कलिकाऐं बटन मशरूम बनना शुरू हो जाता है इस चरण में नमीं करीब 85% तक रखें सुबह शाम कुछ देर के लिए दरवाजे व खिड़कियों खोल देनी चाहिए जब बटन मशरूम का आकार 3 से 4 सेंटीमीटर हो तब इन्हें परिपक्व समझना चाहिए और मोड़ कर तोड़ लेना चाहिए तुरई के पश्चात शीघ्र ही इन बटन मशरूम को उपयोग में ले लेना चाहिए क्योंकि यह जल्दी खराब होने वाली सब्जी है सामान्य तापमान पर बटन मशरूम को तोड़ने के बाद 12 घंटों तक सही अवस्था में रखा जा सकता है 2 से 3 दिन तक फ्रिज में रख सकते हैं लंबे समय तक भंडारण करने के लिए मशरूम को 18% नमक के घोल में रखा जा सकता है इस प्रकार करीब-करीब प्रतिदिन बटन मशरूम की पैदावार मिलती रहती है तथा 8 से 10 सप्ताह में पूरा उत्पादन मिल जाता है।बाजार में इसका भाव 200 से 250 रुपए प्रति किलोग्राम की दर से बिकता है इस तरह चार से पांच कुंतल खाद में कम से कम 500 से 750 किलोग्राम बटन मशरूम प्राप्त होता है थोक भाव में ₹150 प्रति किलोग्राम की दर से बेचे तो हमें 6 महीने में दो बार बटन मशरूम उत्पादन से लाखों रुपए की आमदनी खेती के अतिरिक्त प्राप्त कर सकते हैं कृषि विज्ञान केंद्र पर इसका प्रशिक्षण बिल्कुल मुफ्त कराया जाता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News