अयोध्या :विद्युत कर्मियों की लापरवाही के चलते एक और युवक की गई जान

बारिश से गिरे विद्युत तार दौड़ती रही बिजली,तार की चपेट में आकर बाइक सवार युवक की दर्दनाक।

पटरंगा(अयोध्या) ! पटरंगा थाना अंतर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग से लिंक मार्ग रौजागांव-अलियाबाद पर गुरुवार की रात विद्युत कर्मियों की लापरवाही की कीमत एक युवक को अपनी जान देकर चुकानी पड़ी।बरसात के दौरान गिरे विद्युत तार दौड़ता रहा करंट।ग्रामीणों की सूचना के बावजूद विद्युतकर्मी उदासीन बने रहे।और देर रात इसी तार के चपेट में आकर एक बाइक सवार नवयुवक असमय काल के गाल में शमा गया।थानाध्यक्ष पटरंगा संतोष कुमार सिंह ने बताया कि मृतक के शव को कब्जे
जानकारी के मुताबिक गुरुवार की शाम धमौरा मोड़ के समीप एक शीशम का पेड़ बारिस के चलते गिर गया।और लिंक मार्ग को बाधित कर दिया।इसी पेड़ के साथ एचटी लाइन की विद्युत तार भी फंसकर गिर गया।ग्रामीणों ने इसकी सूचना स्थानीय विद्युत उपकेंद्र को दी।लेकिन देर रात तक कोई भी विद्युत कर्मी वहां झांकने तक नही गया।इचौलिया गांव के प्रधान संतसरन ने बताया कि गांव के ही रामसुरेश पुत्र साहेब लाल अलियाबाद अपने रिश्तेदार के यहां से बाइक पर सवार होकर अपने घर आ रहे थे।कि गिरे पेड़ की डाल में फंसकर विद्युत तार पर गिर गए।तार से विद्युत सप्लाई होने के चलते वो बुरी तरह झुलसकर मौके पर ही दम तोड़ दिया।घटना की सूचना मिलते ही इचौलिया गांव के प्रधान सैकड़ो ग्रामीणों के साथ मौके पर विद्युत विभाग के स्थानीय जेई व अन्य विद्युत कर्मियों अधिकारियों को फोन लगाया।लेकिन घंटो इंतजार के बावजूद कोई भी विद्युत कर्मी मौके पर नही पहुंचा जिससे ग्रामीण आक्रोशित हो गए।सूचना मिलते ही पटरंगा थानाध्यक्ष संतोष कुमार सिंह पूरे दल बल के साथ मौके पर मौजूद रहे।और ग्रामीणों को शांत कराने का प्रयास करते रहे।देर रात थानाध्यक्ष द्वारा कार्रवाई का आश्वासन देने पर ग्रामीण शांत हुए।उसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा के बाद पोस्मार्टम के लिए भेज दिया।वही दूसरी ओर युवक की मौत की सूचना मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया।ग्रामीणों का आरोप है कि शाम होते ही क्षेत्रीय लाइनमैन व अन्य अधिकारी अपना नंबर बंद कर अपने अपने घरों को चले जाते है।क्षेत्र की विद्युत व्यवस्था संविदाकर्मी व प्राइवेट लाइनों के भरोसे रात भर चलती है।जो रात में कभी फोन उठाना मुनासिब नही समझते है।और यही हाल उपकेंद्र के सीयूजी नंबर का भी होता है।घटना के बावत क्षेत्रीय अवर अभियंता राम मनोहर यादव का कहना है कि घटना की जानकारी मिली थी।लेकिन ग्रामीणों के आक्रोश की जानकारी मिलने पर वो मौके पर नही गए।इन्होंने बताया गिरे तार की जानकारी उनको नही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News