जामो(अमेठी) ! पुलिस मुठभेड़ में सुरेन्द्र सिंह हत्याकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार,एसएचओ राजीव सिंह को भी लगी गोली

जामो(अमेठी) ! पुलिस मुठभेड़ में सुरेन्द्र सिंह हत्याकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार,एसएचओ राजीव सिंह को भी लगी गोली

अमेठी ! छह दिन पूर्व हुई भाजपा नेता सुरेन्द्र सिंह की हत्या के मामले में पुलिस ने हत्याकांड के मुख्य आरोपी वसीम को भी गिरफ्तार कर लिया है। गुरुवार की देर रात पुलिस और आरोपी के बीच हुई मुठभेड़ के बाद पुलिस की गोली से घायल हुए वसीम को पुलिस ने गिरफ्तार किया। आरोपी के कब्जे से हत्याकांड में प्रयुक्त तमंचा व बाइक बरामद हुई है। वहीं आरोपी की गोली से इंस्पेक्टर जामों भी घायल हुए हैं। पुलिस ने आरोपी का इलाज कराने के बाद उसे जेल भेज दिया।
केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के करीबी रहे जामों ब्लाक की बरौलिया ग्राम पंचायत के पूर्व प्रधान सुरेन्द्र सिंह की 25 मई की रात लगभग साढ़े 11 बजे गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। मृतक के भाई की तहरीर पर पुलिस ने बीडीसी रामचन्द्र, धर्मनाथ, गोलू, नसीम व वसीम के विरुद्ध हत्या करने व हत्या की साजिश रचने का मुकदमा दर्ज किया था। घटना के मुख्य आरोपी वसीम के अतिरिक्त अन्य चार आरोपियों को पुलिस पहले ही जेल भेज चुकी है। वहीं वसीम की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमें लगातार सक्रिय थी। पुलिस को गुरुवार की रात मुखबिरों से सूचना मिली कि वसीम बाइक से जगदीशपुर की तरफ से आ रहा है। रात लगभग साढ़े 11 बजे प्रभारी निरीक्षक जामों राजीव सिंह के नेतृत्व में पुलिस टीम ने जामों के सालाहपुर तिराहे के पास घेराबंदी की।तभी तेजी से आ रही बाइक को पुलिस ने रुकने का इशारा किया लेकिन वह नहीं रुका। पुलिस टीम ने बाइक का पीछा किया तो बाइक टीले से टकराने से गिर गई और बाइक सवार ने पुलिस को करीब आता देख फायर झोंक दिया। गोली इंस्पेक्टर जामों के बाएं बाजू को छूती हुई निकल गई। जिसके बाद पुलिस द्वारा की गई फायरिंग में बाइक सवार के बाएं पैर में गोली लग गई। जिससे वह घायल होकर गिर पड़ा। जिसे पुलिस ने हिरासत में ले लिया। जिसकी पहचान सुरेन्द्र सिंह हत्याकांड के आरोपी बरौलिया निवासी वसीम के रूप में हुई।

बरामद हुआ हत्याकांड में प्रयुक्त तमंचा।

आरोपी वसीम की तलाशी में पुलिस ने एक तमंचा व बाइक बरामद किया। पुलिस के मुताबिक बरामद बाइक हत्याकांड के आरोपी रामचन्द्र की है। इसी बाइक से वसीम व गोलू सुरेन्द्र सिंह की हत्या करने गए थे। वसीम ने बरामद तमंचे से ही सुरेन्द्र सिंह पर गोली चलाई थी।

पुरानी रंजिश में दिया हत्याकांड को अंजाम: एसपी

एसपी राजेश कुमार ने बताया कि हत्याकांड में नामजद सभी आरोपी घटना में शामिल थे।गोली वसीम ने चलाई थी।गोलू इस दौरान उसके साथ था।वहीं तीनों अन्य आरोपी भी घटना स्थल से थोड़ी दूरी पर मौजूद रहकर निगरानी कर रहे थे।उन्होंने बताया कि मृतक सुरेन्द्र सिंह से आरोपी रामचन्द्र गांव की चुनावी रंजिश रखता था। जबकि मुख्य आरोपी वसीम व उसके पिता को सुरेन्द्र सिंह ने एक मुकदमें में जेल भेजवाया था।जिसके चलते सभी आरोपियों ने मिलकर हत्याकांड की साजिश रची।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News