आय से अधिक संपत्ति मामले में मुलायम और अखिलेश की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, SC में दायर हुई याचिका

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव और उनके बेटे सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. उनके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई है. इस याचिका में मांग की है कि सुप्रीम कोर्ट सीबीआई से कहे कि वह मुलायम और अखिलेश की कथित आय से अधिक संपत्तियों के मामले में जांच पर स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करे.

सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के खिलाफ सीबीआई काफी समय से आय से अधिक संपत्ति मामले की जांच कर रही है. उन पर आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने का आरोप है. याचिका में कहा गया है कि इस जांच की अब तक क्या प्रगति है, इससे कोर्ट के सामने लाया जाए.

दरअसल, वकील विश्वनाथ चतुर्वेदी ने शीर्ष अदालत में याचिका दायर कर मांग की कि सीबीआई को मुलायम, अखिलेश व प्रतीक यादव की संपत्तियों की जांच की रिपोर्ट अदालत में रखने का निर्देश दिया जाये. याचिका में कहा गया है कि जांच पूरी हो गई थी और पहली नजर में पाया गया था कि यादव परिवार के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का मामला बनता है. इस जांच को 6 साल बीतने के बाद भी सीबीआई ने रिपोर्ट किसी अदालत में पेश नहीं की. 2013 में किए गए एक आकलन में ये संपत्ति आय से 24 करोड़ रुपये अधिक पाई गई थी.

उल्लेखनीय है कि सुप्रीम कोर्ट ने मार्च 2007 में चतुर्वेदी की जनहित याचिका पर सीबीआई को मुलायम, अखिलेश व पत्नी डिम्पल और भाई प्रतीक यादव की संपत्तियों की जांच करने का आदेश दिया था. हालांकि 2012 में सुप्रीम कोर्ट ने डिम्पल को इस मामले से यह कह कर बाहर कर दिया था कि वह किसी सार्वजनिक पद पर नहीं थीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News