पुलवामा हमलाः आगरा के लाल कौशल का पार्थिव शव पहुंचा घर, नम आंखो से दी गई अंतिम विदाई

आगराः जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में शहीद हुए आगरा के कौशल किशोर रावत का पार्थिव शव उनके घर कहरई गांव में पहुंच गया। यहां पार्थिव शरीर को घर के आंगन में रखा गया। ग्रामीणों, रिश्तेदारों व परिजनों ने पुष्प अर्पित कर शहीद को श्रद्धांजलि दी। इसके पश्चात शहीद कौशल किशोर को पूरे राजकीय सम्मान के साथ गमगीन माहौल में गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। लोगों ने शहीद की शहादत को नम आंखों से अश्रुपूरित श्रद्धांजलि दी। जिसके बाद मुखाग्नि देकर उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया।
कौशल किशोर सीआरपीएफ में नायक (एएसआई) के पद पर तैनात थे। वह 115 बटालियन में सिलिगुड़ी में नियुक्त थे। कुछ दिन पहले ही कश्मीर में 76 बटालियन में तैनाती हुई थी। इसमें ज्वाइन करने के लिए ही पहुंचे थे कि आतंकी हमला हो गया। किसान गीताराम राकेश के बहादुर बेटे कौशल किशोर की नई बटालियन में ज्वाइनिंग गुरुवार को ही होनी थी। वह इसी के लिए जा रहे थे। इससे पहले सड़क पर बर्फ जमी होने के कारण काफिला जा नहीं पा रहा था।

ज्वाइनिंग के दिन ही उनकी शहादत हो गई। वह उसी गाड़ी में सवार थे जिसे आतंकियों ने धमाके से उड़ा दिया। इसी हमले में कौशल किशोर शहीद हो गए। उनके भाई कमल किशोर रावत ने बताया कि परिवार के कई लोग सीआरपीएफ में हैं। उनसे ही जानकारी मिली। शहादत का पता चलते ही कहरई में गम और गुस्सा पसर गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News