लखनऊ ! योगी सरकार ने आज अपना तीसरा बजट विधानमंडल में पेश कर दिया। साल 2019-20 के इस बजट पर बुधवार को वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने हस्ताक्षर किया। प्रदेश सरकार ने इस बार 4 लाख 79 हज़ार 701 करोड़ रुपये का बजट पेश किया है। इसमें 2 हज़ार 212 करोड़ 95 लाख रुपये नई परियोजनाओं के लिए प्रास्तावित किया गया है। वृंदावन शोध संस्थान के सुदृढ़ीकरण हेतु एक करोड रुपए की व्यवस्था प्रस्तावित की गई है।

★उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार गुरुवार को अपना तीसरा बजट पेश किया।

वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने 4 लाख 79 हज़ार 701 करोड़ 10 लाख रुपये का बजट पेश किया,

यह बजट पिछले साल की तुलना में 12 फीसदी अधिक है.

बजट में संस्कृति विभाग का भी ध्यान रखा गया है,

मथुरा वृंदावन के मध्य ऑडिटोरियम के निर्माण के लिए 8 करोड़ 38 लाख रुपये की व्यवस्था की गई है,

सार्वजनिक रामलीला स्थलों में चारदीवारी निर्माण के लिए 50 करोड़ की व्यवस्था की गई है,

जबकि वृंदावन शोध संस्थान के सुदृढ़ीकरण के लिए एक करोड़ दिए गए हैं

चार लाख 79 हजार सात सौ एक करोड़ 10 लाख रुपये का बजट यूपी सरकार ने पेश किया गया,

वित्त मंत्री ने अपने बजट भाषण में सबसे पहले कुम्भ का जिक्र किया,

अवस्थापना के लिए पूर्वांचल एक्सप्रेस को शामिल किया गया,

पूर्वांचल एक्सप्रेस के लिए 1194 करोड़,

बुंदेलखंड एक्प्रेस के लिए 1000 करोड़,

गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे लिए 1000 करोड़,

डिफेंस कॉरिडोर के लिए 500 करोड़,

आगरा लखनऊ एक्प्रेस वे 6 लेन के लिए 100 करोड़,

स्मार्ट सिटी योजना के तहत 758 करोड़ की व्यवस्था की गई है,

जबकि स्वच्छ ग्रामीण मिशन के तहत 58 हजार 770 ग्राम पंचायत को शौच मुक्त कर दिया है.

पर्यटन विभाग के लिए बजट में- उत्तर प्रदेश ब्रज तीर्थ में अवस्थापना सुविधाओं के लिए 125 करोड़ रुपए की व्यवस्था प्रस्तावित किए हैं,

अयोध्या में प्रमुख पर्यटन स्थलों के समेकित विकास के लिए 101 करोड़ रुपए की व्यवस्था की गई है,

गढ़मुक्तेश्वर के पर्यटक स्थलों की समेकित विकास के लिए 27 करोड़ की व्यवस्थ की गई है,

पर्यटन नीति 2018 के क्रियान्वयन के लिए 70 करोड़ रुपए और प्रो-पुआर टूरिस्ट के लिए 50 करोड़ की व्यवस्था की गई है,

वाराणसी में लहर तारा तालाब कबीर स्थल एवं गुरु रविदास की जन्म स्थली सीर गोवर्धनपुर का सुदृढ़ीकरण किया जाना प्रस्तावित किया गया है,

प्रयागराज में ऋषि भरद्वाज आश्रम का विकास किया जाना और लखनऊ में बिजली पासी किले का विकास किया जाना प्रस्तावित.

विधान परिषद में सपा एमएलसी ने हंगामा करने शुरू कर दिया,

सपा एमएलसी प्रश्न काल की मांग कर रहे हैं.

4,79,701,10 लाख करोड़ रुपये का बजट पेश किया.

पिछले साल की तुलना में वर्तमान बजट 12 फीसद अधिक है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल बजट का पिटारा लेकर विधानसभा पहुंचे.

चुनावी वर्ष में किसानों को साधने के लिए किराए पर कृषि यंत्र उपलब्ध कराने और गन्ना मूल्य भुगतान की व्यवस्था के साथ युवाओं को जोड़ने के लिए युवक व महिला मंगल दलों के गठन और खेल प्रोत्साहन जैसी नई योजनाओं के आने की उम्मीद है. सभी को आवास,

शौचालय व बिजली जैसे घर-घर लाभ वाले प्रोजेक्ट को भी तवज्जो दी जाएगी.

बजट में महिलाओं के लिए ऐसी योजना लाने की तैयारी है जिसका लाभ सभी परिवारों को मिले,

दरअसल बीजेपी के संकल्प पत्र में शामिल भाग्यलक्ष्मी योजना को पूरा करती हुई नई योजना कन्या सुमंगला योजना के लेन की भी चर्चाएं हैं,

बीजेपी ने अपने संकल्प पत्र में कहा था कि प्रत्येक गरीब परिवार में बेटी के जन्म पर 50 हजार रुपए का बांड देने का जिक्र है.

यूपी का बजट आज सुबह 11 बजे पेश किया जाएगा

केंद्र सरकार की तरह इस बजट का फोकस महिलाएं,कामगार, किसान व गोवंश संरक्षण हो सकता है.

चुनावी साल और कुंभ वर्ष में पेश होने जा रहे सबसे बड़े बजट (पौने पांच लाख करोड़) में सबसे ज्यादा हिस्सा बेटियों का हो सकता है,

सरकार बेटियों को जन्म से पढ़ाई और बालिग होने तक आर्थिक सहायता देने वाली ‘कन्या सुमंगला योजना’ का ऐलान कर सकती है.

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार गुरुवार को अपना तीसरा बजट पेश किया,

वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने 4 लाख 79 हज़ार 701 करोड़ 10 लाख रुपये का बजट पेश किया,

यह बजट पिछले साल की तुलना में 12 फीसदी अधिक है,

इससे पहले कैबिनेट बैठक में बजट पर प्रस्ताव पास हो गया है,

यूपी के सदन में पहली बार 11 से बजे बजट पेश किया जा रहा है

आज प्रश्नकाल को समाप्त किया गया है

चार लाख 79 हजार सात सौ एक करोड़ 10 लाख रुपये का बजट यूपी सरकार ने पेश किया

वित्त मंत्री ने अपने बजट भाषण में सबसे पहले कुम्भ का जिक्र किया,

अवस्थापना के लिए पूर्वांचल एक्सप्रेस को शामिल किया गया,

पूर्वांचल एक्सप्रेस के लिए 1194 करोड़,

बुंदेलखंड एक्प्रेस के लिए 1000 करोड़, गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे लिए 1000 करोड़,

डिफेंस कॉरिडोर के लिए 500 करोड़,

आगरा लखनऊ एक्प्रेस वे 6 लेन के लिए 100 करोड़,

स्मार्ट सिटी योजना के तहत 758 करोड़ की व्यवस्था की गई है

जबकि स्वच्छ ग्रामीण मिशन के तहत 58 हजार 770 ग्राम पंचायत को शौच मुक्त कर दिया है.

बजट में संस्कृति विभाग का भी ध्यान रखा गया है

मथुरा वृंदावन के मध्य ऑडिटोरियम के निर्माण के लिए 8 करोड़ 38 लाख रुपये की व्यवस्था की गई है

सार्वजनिक रामलीला स्थलों में चारदीवारी निर्माण के लिए 50 करोड़ की व्यवस्था की गई है जबकि वृंदावन शोध संस्थान के सुदृढ़ीकरण के लिए एक करोड़ दिए गए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News