AMU अल्पसंख्यक संस्थान नहीं, दलित-पिछड़ों को दिया जाये आरक्षण: सीएम योगी

यूपी के अलीगढ़ में ब्रज क्षेत्र के बूथ अध्यक्षों के सम्मेलन को संबोधित करने पहुंचे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्षी दलों पर जमकर हमला बोला. योगी ने ने एसपी, बीएसपी और कांग्रेस को इशारों- इशारों में हिंदू विरोधी बताया. उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों में पर्व और त्योहारों को शांति से मनाने की स्वतंत्रता नहीं थी. एसपी और बीएसपी की सरकारों में पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कांवड़ यात्रा तक नहीं निकालने दी जाती थी. ऐसा पहली बार हुआ जब कोई पर्व और त्योहार शांति पूर्ण तरीके से मनाया गया है. वेस्टर्न यूपी में कांवड़ यात्रा भी निकाली गई.

भाजपा अध�यक�ष का स�वागत

यूपी सीएम ने कहा कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी केंद्रीय यूनिवर्सिटी है. भारत सरकार हर साल इस यूनिवर्सिटी को 150 करोड़ से 300 करोड़ अनुदान देती है. लोगों के टैक्स से यह रुपया दिया जाता है. हर संस्थान में अनुसूचित जाति और अन्य पिछड़ी जातियों के लोगों का आरक्षण मिलता है अलीगढ़ में क्यों नहीं दिया जाता है? सीएम ने कहा कि यहां भी आरक्षण लागू होना चाहिए. योगी ने कहा कि यह बात स्पष्ट है कि कांग्रेस ने तुष्टिकरण के आधार पर लोगों को बांटा यही कारण है कि अलीगढ़ यूनिवर्सिटी में आरक्षण लागू नहीं है.

सीएम योगी ने कहा कि आज अपराधी गले में तख्ती डालकर थाने पहुंच रहे हैं कि हमको गिरफ्तार करो,आज प्रदेश में जंगल राज समाप्त कर अमन चेन कायम किया. अलीगढ़ में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष को अलीगढ़ का ताला भेंट किया गया है, इसको सपा-बसपा के कार्यलयों पर लगाना है.

सपा-बसपा गठबंधन पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में हम अपनी सीटों की संख्या 73 से 74 करके, बुआ-भतीजे की राजनीति पर अलीगढ़ का ताला लगाकर रहेंगे. 2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और सपा के गठबंधन का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि साल 2017 में यूपी के दो लड़के एकत्र हुए थे, तो माहौल बनाया था. लोग कहते थे अब क्या होगा. मैंने तब भी घोषणा की थी, हम 300 सीटें जीतेंगे और कार्यकर्ताओं की मेहनत से हमने 325 सीटें जीती थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News