महात्मा गाँधी की 71वीं पूण्यतिथि आज, उनकी ये तस्वीरें सच हैं या झूठ? क्या है इनके पीछे की कहानी

आज राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 71वीं पुण्यतिथि है, इस अवसर पर देशभर में कई कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज गुजरात के दौरे पर होंगे, जहां पर वह दांडी यात्रा की याद में बनाए गए दांडी स्मारक का लोकार्पण करेंगे. इस कार्यक्रम के अलावा प्रधानमंत्री कई अन्य कार्यक्रम में शामिल होंगे, जहां उन्हें कई परियोजनाओं का उद्घाटन करना है.

दुनिया को शांति और अहिंसा का पाठ पढ़ाने वाले राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एक अनोखा व्यक्तित्व रखने वाले व्यक्ति थे. उनकी हरेक तस्वीर के पीछे एक अविस्मरणीय इतिहास था. फिर चाहे वह दांडी यात्रा हो, सविज्ञा आंदोलन हो या उनका चरखा चलाना. ये तस्वीरें देखकर ही हमें उसके पीछे की कहानी याद आ जाती है, लेकिन सोशल मीडिया में इस समय ऐसी कई फोटोज हैं जो उनके व्यक्तित्व के बिल्कुल विपरीत हैं


यह है हकीकत- दरअसल, यह 6 जुलाई, 1946 में मुंबई में आयोजित ऑल इंडिया कांग्रेस की मीटिंग में गांधीजी और नेहरू की फोटो थी, जिसे फोटोशॉप की मदद से नकली रूप दे दिया गया.


इस फोटो को देखकर लोग अक्सर धोखा खा जाते हैं. यह फोटो इंटरनेट पर खासी वायरल हुई थी. इस फोटो के साथ यह दिखाने की कोशिश की गई थी कि गांधीजी एक विदेशी महिला के साथ डांस कर रहे हैं. जबकि, इस फोटो में दिखाई दे रहा शख्स एक ऑस्ट्रेलियन कलाकार है. यह फोटो सिडनी में आयोजित एक चैरिटी कार्यक्रम के दौरान ली गई थी. अगर आप इस फोटो को गौर से देखें तो पाएंगे कि इसमें दिखाई दे रहा शख्स मस्क्युलर है. जबकि, गांधीजी बहुत दुबले-पतले थे. दरअसल, इस कलाकार ने पब्लिसिटी के लिए मेकअप ही जानबूझकर ऐसा किया था कि वह महात्मा गांधीजी की तरह दिखाई दे.

गांधीजी की यह फोटो भी काफी वायरल हुई है. दावा किया गया कि यह फोटो उस समय की है, जब गांधीजी को नाथूराम गोडसे ने गोली मारी थी. जबकि, वास्तविकता यह है कि यह 1963 में रिलीज हुई फिल्म ‘नाइन ऑर्स टू रामा’ (Nine Hours to Rama) का शॉट है. इस फोटो को लेकर भी लोग अक्सर धोखा खा जाते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News