नववर्ष के जश्न में एक ही रात 50 लाख लीटर से अधिक शराब पी गया उत्तर प्रदेश

लखनऊ

आपको यकीन करने में शायद मुश्किल हो लेकिन, यह बात सोलह आने सही है कि उत्तर प्रदेश में एक ही रात पियक्कड़ों ने 50 लाख लीटर से अधिक शराब गटक ली। साल 2018 की विदाई और नए साल के आगमन की खुशियां जगह-जगह कॉकटेल पार्टी के बीच मनाई गई। इससे आबकारी विभाग से लाइसेंस प्राप्त फुटकर दुकानों व मॉडल शॉप में बिक्री सामान्य दिनों की अपेक्षा 31 दिसंबर को दोगुनी हो गई। यह आकड़ा सिर्फ सरकारी है, जबकि चोरी छुपे बिकने और पी जाने वाली शराब की मात्रा अलग से है।
शराब का नशा करोड़ों के सिर चढ़कर बोला

नए साल के जश्न में सोमवार की रात शराब का नशा करोड़ों लोगों के सिर चढ़कर बोला। प्रत्येक माह की बिक्री के आकड़े के अनुसार आबकारी विभाग ने 31 दिसंबर का अनुमानित औसत निकाला तो अफसर भी चौंक पड़े। पता चला कि देशी शराब ही करीब 31 लाख लीटर बिक गई। इसके अलावा अंग्रेजी शराब करीब 18 लाख बोतलें और बीयर करीब 23 लाख बोतलें बिक गईं। इनको मिलाकर करीब 50 लाख लीटर शराब बिक्री होने का अनुमान लगाया गया है। आबकारी मुख्यालय के अनुसार होली के त्योहार और दिसंबर माह के आखिरी दो दिनों में शराब व बीयर की बिक्री सामान्य दिनों की अपेक्षा करीब डेढ़ गुना बढ़ जाती है।

आंकड़ों की गवाही में शराब की खपत
ध्यान रहे कि शराब प्रति माह एक करोड़ 65 लाख बोतलें और बीयर करीब दो करोड़ 10 बोतलें बिकती हैं। हालांकि बीच के कुछ महीनों में यह आंकड़ा घटता बढ़ता भी रहता है। लेकिन, इस 31 दिसंबर को बिक्री औसत अनुमान से कुछ अधिक हुई। आबकारी विभाग इसका दावा तो नहीं करता लेकिन, प्रदेश में कच्ची व अन्य अवैध शराब बिक्री भी चोरी छुपे होने से किसी का इन्कार भी नहीं है। ऐसे में साल 2018 की विदाई के दौरान अवैध शराब की बिक्री भी खूब हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News