कार जली, इंजिनियर की मौत, लोग बनाते रहे विडियो

ग्रेटर नोएडा
ऑफिस में नाइट ड्यूटी खत्म करके घर लौट रहे इंजिनियर की चलती कार में आग लग जाने से जिंदा जलकर मौत हो गई और लोग विडियो बनाते रहे। उन्हें कार से बाहर निकलने का मौका नहीं मिला। ग्रेटर नोएडा की दिल्ली पुलिस सोसायटी के पास मंगलवार सुबह 5:30 बजे जब यह घटना हुई, इंजिनियर पवन धीमान अपने घर से महज 200 मीटर की दूरी पर थे। वह ग्रेनो की कैसिया एस्टेट सोसायटी में रहते थे और नोएडा की ब्रिज ग्लोबल कंपनी में काम करते थे।
आशंका जताई जा रही है कि सुबह ठंड ज्यादा होने से संभवत: पवन ने कार का हीटर चला रखा होगा। पुराने मॉडल की कार में वायरिंग अक्सर कमजोर हो जाती है और हीटर लगातार चलने से तार गर्म हो जाते हैं। ऐसे में शॉर्ट सर्किट होने पर सेंट्रल लॉक वाली कार के खिड़की दरवाजे लॉक हो जाते हैं।

लोग बनाते रहे विडियो
परिजनों का दावा है कि कार में आग लगने पर आसपास के लोग विडियो बनाते रहे, किसी ने बचाने की कोशिश नहीं की। पवन ने सुबह 4 बजे क्रिसमस की बधाई देने के साथ अपनी और परिवार की दो फोटो सोशल मीडिया पर पोस्ट की थीं, डेढ़ घंटे बाद ही कार में उनकी मौत हो गई।

कार का हीटर हो सकता है हादसे की वजह
ग्रेनो में नैशनल मोटर गैराज के ऑटोमोबाइल एक्सपर्ट अरविंद नागर ने बताया कि हो सकता है कि सुबह अधिक ठंड के कारण पवन धीमान ने कार का हीटर चलाया हो। कार पुरानी होने की वजह से वायरिंग कमजोर हो जाती है और हीटर शुरू होने पर तार गर्म हो जाते हैं। ऐसे में शॉर्ट सर्किट की आशंका बढ़ जाती है। शॉर्ट सर्किट होने पर कार के खिड़की दरवाजे लॉक हो जाते हैं और अंदर धुआं भरने से दम घुटने लगता है। यही बड़े हादसे की वजह बनती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News