भाजपा विधायक ने अब सुल्तानपुर का नाम बदलने का प्रस्ताव विधानसभा में पेश किया

पूरा मामला उत्तर प्रदेश के लम्भुआ का है। जहां पहली बार चुनाव जीत कर आए भाजपा विधायक देवमणि द्विवेदी ने सुल्तानपुर के नाम को बदलने का प्रस्ताव विधानसभा में पेश किया है। शहर का नाम सुल्तानपुर से बदलकर कुश भावनपुर करने की अर्जी दी गई है। जिस पर विधानसभा में सेक्शन 103 के तहत चर्चा होगी।

उत्तर प्रदेश में एक भाजपा विधायक ने सुल्तानपुर के नाम को बदलने का प्रस्ताव कल (गुरुवार) को विधानसभा में पेश किया। भाजपा विधायक ने सुल्तानपुर का नाम भगवान राम के पुत्र पर रखने का प्रस्ताव पेश किया है। बता दें विधानसभा में इस प्रस्ताव पर सेक्शन 103 के तहत चर्चा होगी।

इंडियन रेलवे ट्रैफिक सर्विसेज के पूर्व अधिकारी रहे विधायक देवमणि द्विवेदी का कहना है कि उनके पास सुल्तानपुर के नाम को बदलने का ऐतिहासिक साक्ष्य मौजूद है। उन्होंने कहा कि शहर पहले कुश भावनपुर के नाम से जाना जाता था।

यही नहीं इसके साथ ही इसे कुशपुर और कुशावटी के नाम से भी जाना जाता था। लेकिन इसका सबसे प्रसिद्ध नाम कुश भावनपुर था। देवमणि कहते हैं कि महान कवी कालिदास की महाकाव्य रघुवंश, इतिहासविद एलेग्जेंडर कन्निघम और

सुल्तानपुर के राजपत्र के रिकॉर्ड के मुताबिक शहर का नाम यही थी। लेकिन अलाउद्दीन खिलजी के शासन काल के दौरान इसका नाम बदलकर सुल्तानपुर कर दिया गया था।

गौरतलब है कि अगर ये प्रस्ताव मंजूर होता है तो भाजपा सरकार आने के बाद ये चौथा शहर होगा, जिसका नाम बदला जाएगा। इससे पहले इलाहबाद का नाम प्रयागराज और फैजाबाद को बदलकर अयोध्या किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News