ग्रामीणों के आस्था का केंद्र बना पारापहाड़पुर गांव का झारखण्डेश्वर मंदिर

अयोध्या ! यूं तो अयोध्या जिले के रूदौली क्षेत्र में कई मंदिर मस्जिद व सिद्ध पीठ है।उनमें से एक धार्मिक स्थान का नाम झारखंडेश्वर भी है जो आस पास के दर्जनों गांवों के ग्रामीणों के लिये आस्था का केंद्र बना हुआ है।यहां धार्मिक स्थान के परिसर में
महाराज शनिदेव की मूर्ति खुले आसमान के नीचे खड़े हुए अवस्था मे मौजूद है।मान्यता है कि जो भी श्रद्धालु यहां आता है उस पर शनिदेव की कृपा हो जाती है।इसी के समीप एक मंदिर है।जिसमें एक शिवलिंग के अलावा शंकर पार्वती गणेश कार्तिकीय की प्रतिमा स्थापित है।

कृपया चैनल को सब्सक्राइब करना न भूलें।

इस स्थान पर वर्ष में एक बार भव्य मेला लगता है और प्रतिवर्ष शिवरात्रि के दिया श्रीमद्भागवत कथा के अलावा मेले व भंडारे का भी आयोजन होता है।जिसमें भारी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित होते है और प्रसाद ग्रहण करते है।पारा पहाड़पुर गांव निवासी 95 वर्षीय दादा रामजग सिंह बताते है कि गांव के किनारे स्थित ये मंदिर लगभग डेढ़ सौ पुराना है पहले यहां एक जंगल था जिसके बीच ग्रामीणों द्वारा एक शिवलिंग देखी गई।तब से ग्रामीणों द्वारा लगातार प्रयास के बाद यहां एक मंदिर की स्थापना हुई।ग्रामीणों की माने तो यहां जो भी श्रद्धालु सच्चे मन कोई मनौती मां ले तो पूर्ण जरूर होती है।मंदिर में सुबह शाम पूजा करने वाले पुजारी प0 रामकिशोर की माने तो इस स्थान पर अब कई बड़े जनप्रतिनिधि भी अब तक आ चुके है मंदिर परिसर का विकास करने की भी बात कही थी लेकिन अभी तक कोई भी निर्माण कार्य शुरू नही कराया गया।इन्होंने बताया ग्राम प्रधान गीता सिंह चुनाव जीतने के बाद मंदिर तक का खड़ंजा मार्ग का निर्माण कराया साथ ही मंदिर परिसर का कायाकल्प कराने की भी बात कही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News