अयोध्या: विहिप और शिवसेना के कार्यक्रमों पर होगी इन दो IPS अधिकारियों की नजर

सुप्रीम कोर्ट द्वारा अयोध्या विवाद मामले की सुनवाई अगले वर्ष जनवरी तक टालने के फैसले के बाद अयोध्या में राजनीतिक दलों और हिन्दू संगठनों का तांता लगना शुरू हो गया है और शुरू हो गया है जनसभाओं का दौर। इसी क्रम में विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) ने धर्मसभा का आयोजन किया है, जिसमें दो लाख से ज्यादा लोगों के पहुंचने का अनुमान लगाया जा रहा है। इस धर्मसभा को लेकर शहर का माहौल तनावपूर्ण है। इसी कार्यक्रम के चलते प्रशासन ने अयोध्या की जिम्मेदारी दी जांबाज आईपीएस अधिकारियों को सौंपी है।

आईपीएस अधिकारी रखेंगे हिन्दू संगठनों के कार्यक्रमों पर नजर

मिली जानकारी के अनुसार, अयोध्या में हिन्दू संगठनों की हर गतिविधियों पर नजर रखने के लिए प्रशासन ने दो ऐसे जांबाज आईपीएस अधिकारियों को चयनित किया है, जिनके कंधों पर शहर की शांति व्यवस्था बनाए रखने की जिम्मेदारी होगी। यूपी पुलिस की जानकारी के अनुसार एडीजी टेक्निकल आशुतोष पांडे और डीआईजी रेंज झांसी सुभाष सिंह बघेल अयोध्या भेजे गए है। दोनों ही अफसरों को तत्काल अयोध्या पहुंचने के लिए कहा गया है।

आशुतोष पांडे होंगे ब्लू वा येलो जोन के प्रभारी

बताया जा रहा है एडीजी आशुतोष पांडे राम जन्मभूमि के ब्लू वा येलो जोन के प्रभारी होंगे। इसके साथ ही शिवसेना के कार्यक्रमों पर नजर रखने की जिम्मेदारी भी उन्ही को सौंपी गई है।

इसके अलावा राम जन्मभूमि परिषद के रेड जोन व वीएचपी के सभी कार्यक्रमों का डीआईजी सुभाष सिंह बघेल को प्रभारी बनाया गया जबकि एडीजी आशुतोष पांडे और डीआईजी रेंज झांसी सुभाष सिंह बघेल को तत्काल अयोध्या रवाना किया गया। कल से आशुतोष पांडे और सुभाष सिंह बघेल अयोध्या में कार्यक्रम समाप्ति तक कैंप करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News