महिला जासूस के जाल में फंस पाकिस्तान को सेना की सूचनाएं दे रहा था बीएसएफ जवान

लखनऊ. यूपी एटीएस की नोएडा यूनिट ने सेना की जासूसी के आरोप में मंगलवार को बीएसएफ के जवान को गिरफ्तार किया। आरोपी जवान अच्युतानंद मिश्रा मूल रूप से मध्यप्रदेश के रीवा का रहने वाला है। सोशल मीडिया पर एक महिला जो आईएसआई की एजेंट है के हनीट्रैप में फंसकर वह सेना की जासूसी कर रहा था।

एटीएस ने बताया कि महिला ने खुद को मिस्र की नागरिक और सेना का रिपोर्टर बताया। शुरुआत में फेसबुक पर चैट हुई। बाद में वीडियो कॉल से बातचीत भी हुई। गिरफ्तार जवान पाकिस्तान के नंबर पर लगातार महिला से बात कर रहा था। एजेंट ने पाकिस्तानी विरोधी बातें करके जवान को अपने जाल में फंसाया था।

विदेशी एजेंसियों को दी सूचनाएं: इसके बाद अच्युतानंद मिश्रा ने महिला को बीएसएफ कैंप से जुड़ी तस्वीरें, नक्शे सहित कई अहम और गोपनीय सूचनाएं दी। एटीएस को इसके सबूत मिले हैं। डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि एटीएस यह जानने में जुटी है कि कहीं इसके लिए पैसों का लेनदेन तो नहीं हुआ। साथ ही, यह भी पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि कहीं और भी जवान इस महिला के शिकार तो नहीं हुए।

उन्होंने बताया कि जवान ने पूछताछ में इस बात को स्वीकारा है कि उसने महिला के फेक आईडी पर चैट के माध्यम से सेना की खुफिया जानकारी के साथ नक्शे और कुछ दस्तावेज आईएसआई को दिए। गिरफ्तार जवान के खिलाफ सुरक्षा गोपनीयता एक्ट की धाराओं और आईटी एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज की गई है। आरोपी 2006 में बीएसएफ में भर्ती हुआ था।

न्यायालय ने आरोपी जवान अच्युतानंद मिश्रा की 5 दिन की रिमांड एटीएस को दे दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News