अयोध्या : कल हिंदू रखेंगे व्रत तो अगले दिन मुस्लिम रहेंगे रोजा

0

मार्च माह में दो दो धार्मिक त्यौहार,लेकिन गांवों में सफाई व्यवस्था चौपट,मवई ब्लॉक में मंदिर मस्जिद के आस पास नही चला सफाई अभियान।

मवई(अयोध्या) ! मार्च(चैत्र) माह में वासंतिक नवरात्र व रहमत बरकत मगफिरत का पवित्र माह रमजान एक दिन के आगे पीछे शुरू हो रहे है।कल 22 मार्च से नवरात्र शुरू होगा तो एक दिन बाद 23-24 मार्च से रमजान माह भी शुरू होने जा रहा है।रूदौली तहसील क्षेत्र में इस बार जिम्मेदार अफसरों की संवेदनहीनता की वजह से कोई भी सफाई अभियान नही चलाया गया।जिससे मठ मंदिर व मस्जिदों के आस पास गंदगी का अंबार लगा हुआ है।हालांकि दोनों पर्व एक दिन के आगे पीछे शुरू होने से पूरे क्षेत्र धार्मिक सौहार्द देखने को मिल रहा है।
बताते चले कि इस बार हिंदू-मुस्लिम के त्यौहारों में संयोग देखने को मिलेगा।दोनों धर्मों का त्यौहार लगभग 1 दिन के अंतर पर शुरू हुआ है।एक तरफ नवरात्र में मंदिरों में आरती होगी तो दूसरी तरफ रमजान माह में मस्जिदों के कुरान की आयतें सुनाई जाएंगी। रमजान का चांद 22 या 23 मार्च को दिख सकता है। नवरात्र भी 22 मार्च से प्रारंभ हो रहा है।गेरौंडा गांव निवासी उजैर अहमद व गायत्रीनगर के निवासी रिटायर्ड शिक्षक राम अभिलाष वर्मा ने “चौपाल परिवार” से बातचीत करते हुए बताया कि
सभी धर्म एक ईश्वरीय शक्ति को मानते हैं।आस्था, रास्ते व तरीके भले ही अलग अलग हो सकते हैं।लेकिन उद्देश्य दोनों त्यौहार का एक ही है।इस बार नवरात्र एवं रमजान का साथ साथ होना ईश्वरीय संदेश ही है।व्रत या रोजे से रूहानी पाकीज़गी मिलती है।इंसान को अपने चरित्र,व्यवहार,आचरण को अच्छा करने की प्रेरणा मिलती है।वसुदेव कुटुंबकम की भावना जागृत होती है।वही रानीमऊ के गुड्डू खाँ व सुनील मिश्र बताते है कि विगत दो वर्षों से वासंतिक नवरात्र व रमजान माह पर कोरोना का कहर होने की वजह से मठ मंदिर व मस्जिदों में सन्नाटा छाया रहा।सरकार के लाख प्रयास के बाद इस बार कोरोना के कहर को रोकने में कामयाबी तो मिल गई।लेकिन धार्मिक त्योहारों को लेकर सरकारी सिस्टम अभी तक सुस्त है।यही कारण है कि मवई ब्लॉक मुख्यालय में तैनात 77 सफाई कर्मियों में से एक भी सफाई कर्मी मंदिर मस्जिद के आस पास सफाई अभियान नही चलाया।जबकि पहले इन त्यौहारों के आते ही सफाईकर्मी टोलियों में निकलकर धार्मिक स्थलों के आस पास स्वच्छता अभियान चलाते थे।इस बावत एडीओ पंचायत रवीन्द्र वर्मा ने बताया कि वैसे गांवो में सफाईकर्मी साफ सफाई में लगे है।इन्हें निर्देश भी दिया गया कि त्यौहार जो भी कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार ब्लॉक में 77 सफाईकर्मी ब्लॉक में तैनात है।जिनमें 10 जिला मुख्यालय से अटैच है दो ब्लॉक मुख्यालय से सम्बद्ध है।ऐसे में ब्लॉक क्षेत्र में स्थित धार्मिक स्थलों की सफाई व्यवस्था राम भरोसे ही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News