अयोध्या : जनता के सहयोग से पूरे प्रदेश में होगा 35 करोड़ पौधरोपण-वन मंत्री

आगामी वर्षाकाल में 1 जुलाई से 15 अगस्त तक चलेगा पौधरोपण का महाअभियान

एक दिवसीय दौरे पर आए वनमंत्री ने बसौढ़ी पौधशाला का निरीक्षण कर लगाया रुद्राक्ष का पेड़।

मवई(अयोध्या) ! आगामी वर्षाकाल में होने वाले वृक्षारोपण महाअभियान से पूर्व बुधवार को वन मंत्री अपने एक दिवसीय दौरे पर अयोध्या आए।यहां पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत वे जिले की सीमा पर स्थित रुदौली वन रेंज के बसौढ़ी पौधशाला पहुंचे।जहां क्षेत्रीय विधायक रामचंद्र यादव व मुख्य वन संरक्षक (मध्य क्षेत्र)रेनू सिंह ने वन राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ अरुण कुमार सक्सेना को स्मृति चिह्न के रूप में राम दरबार भेंट कर स्वागत किया।उसके बाद वन विभाग के अधिकारियों व क्षेत्रीय भाजपा कार्यकर्त्ताओं ने वन राज्यमंत्री का माल्यार्पण कर स्वागत किया।
बुधवार की सुबह करीब 10 बजे वन रेंज रूदौली के बसौड़ी पौधशाला पहुंचे वन पर्यावरण एवं जंतु उद्यान राज्य मंत्री अरुण कुमार सक्सेना सर्वप्रथम बसौड़ी पौधशाला का निरीक्षण किया।और पौधशाला में उगाए गए प्रजातिवार पौधे के बारे में जानकारी ली।जिस पर क्षेत्रीय वनाधिकारी ओम प्रकाश जानकारी देते हुए बताया कि बसौड़ी पौधशाला में कुल 2 लाख 10 हजार पौधे तैयार किए जा रहे है।वह मंत्री ने पौधों के क्रमिक विकास व पौधे को तैयार करने के लिए बने मिस्ट चैंबर को देख प्रसन्न्ता व्यक्त की।उन्होंने नर्सरी प्रभारी शीतला प्रसाद यादव की मेहनत की भी सराहना की।

वन मंत्री ने रुद्राक्ष पौध का रोपण कर पत्रकारों से हुए मुखातिब

पौधशाला के निरीक्षण के उपरांत वन मंत्री डा0 अरुण कुमार सक्सेना ने रूदौली रेंज कार्यालय के परिसर में रुद्राक्ष पौधे का रोपण किया।तत्पश्चात पत्रकारों से मुलाकात करते हुए कहा कि एक पेड़ दस पुत्रों के समान होते है।क्योंकि एक पेड़ लगाने से वह पेड़ आपके जीवन से लेकर जीवन के अंत तक काम आएगा क्योंकि यह एक पेड़ जब तक हरा भरा रहेगा आपको फल देगा छाया देगा और ऑक्सीजन भी देगा। उसके बाद में वह सूख जाएगा तब भी वह मनुष्य के अंतिम संस्कार के काम आता है।इसलिए हर मनुष्य को चाहिए कि वो कम से कम पांच पौधों का रोपण जरूर करें।

वर्ष 2020 में हुए वृक्षारोपण का किया निरीक्षण

वन राज्य मंत्री अरुण कुमार सक्सेना ने पौधशाला निरीक्षण के बाद सुल्तानपुर ब्रांच कैनाल अंतर्गत वर्ष 2020 में हुए वृक्षारोपण कर निरीक्षण किया।यहां शारदा सहायक नहर के किनारे 6 हेक्टेयर भूमि पर हुए पौधरोपण का निरीक्षण किया।निरीक्षण में 90 % पौध जीवित पाए गए।पौधों के क्रमिक विकास को देख वन मंत्री ने प्रसन्नता व्यक्त किया।वनमंत्री ने क्षेत्रीय वनाधिकारी को निर्देश दिया कि इस बसर जंगल में जो भी पौधे लगाए जाएंगे वह दुबले पतले ना हो उनकी लंबाई 4 से 5 फिट हो हरे भरे पौधे हों और सभी पौधों को लगाने से के बाद उनकी ठीक तरीके से देखभाल होना जरूरी है।जिससे उनका अस्तित्व बरकरार रहे।उन्होंने ये भी कहा कि इस बार वन विभाग की जो भी खाली पड़ी जमीन है उस पर हरे भरे छायादार फलदार पौधों को लगाना अत्यंत जरूरी है खासकर सड़क के किनारे नहर की पटरियों पर व अन्य जगहों पर जहां पर जहां पेड़ नहीं लगे हुए हैं।

विधायक द्वारा टूरिस्ट प्लेस बनाने की मांग

सुल्तानपुर वन ब्लॉक में वन मंत्री के साथ निरीक्षण करने गए रुदौली विधायक रामचंद्र यादव ने अयोध्या-बाराबंकी जिले की सीमा पर स्थित अशरफपुर गंगरेला गांव के जंगल में एक टूरिस्ट प्लेस बनाए जाने की बात वन मंत्री से कही।विधायक ने कहा कल्याण नदी के किनारे स्थित इस जंगल के समीप यदि एक टूरिस्ट प्लेस बन जाए तो बाहर से आने वाले लोग वहा पर रुककर आराम करने के बाद अपने आप को तरोताजा महसूस कर सकेगें।

वन मंत्री के निरीक्षण के दौरान दुल्हन की तरह सजाई गई पौधशाला

वन मंत्री के प्रायोजित दौरे के दौरान वन विभाग के अफसरों ने बसौड़ी पौधशाला को दुल्हन की तरह सजाए हुए थे।मेन गेट से लेकर पौधशाला का पूरा परिसर फूल माला गुब्बारों से सजाया गया था।पूरा परिसर मैटीयुक्त थी।क्यारी व पेड़ो की रंगाई भी की गई थी।पौधरोपण स्थल पर भी रंगोली बनाई गई थी।इस मौके पर मुख्य वन संरक्षक(मध्य क्षेत्र) रेनू सिंह,वन संरक्षक डा0 अनिरुद्ध कुमार पांडे, डीएफओ अखिलेश कुमार कश्यप उप प्रभागीय वनाधिकारी के0एन0 सुधीर एसडीएम स्वप्निल यादव, सीओ सुरेंद्र प्रताप तिवारी, वन क्षेत्राधिकारी ओम प्रकाश सिंह,डिप्टी रेंजर वीरेंद्र तिवारी वन दरोगा नरेंद्र कुमार राव,अरविंद मिश्रा हरिशंकर यादव , कमलेश कुमार प्रजापति सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News