छात्रों के विवाद के बाद हटाये गए साकेत महाविद्यालय के प्रधानाचार्य

अयोध्या:साकेत महाविद्यालय में छात्र संघ चुनाव को लेकर छात्रों का बवाल के बाद वर्तमान प्रधानाचार्य को भारी नुकसान उठाना पड़ा है। अवध विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ रवि शंकर सिंह ने साकेत महाविद्यालय के वर्तमान प्रधानाचार्य डॉ नर्वदेश्वर पांडेय को प्रधानाचार्य पद पर अर्ह नहीं होने को लेकर हटा दिया है।

दरअसल साकेत महाविद्यालय के प्रधानाचार्य पद पर कार्यरत अजय मोहन श्रीवास्तव का कार्यकाल पूरा होने के बाद डॉक्टर नर्वदेश्वर पांडेय ने 1 जुलाई को पद ग्रहण किया था जिस पर कालेज के ही प्रोफेसर डॉक्टर अजय सिंह ने प्रधानाचार्य पद को लेकर अवध विश्वविद्यालय में चुनौती दी थी जिसके तहत कुलपति की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया था। वहीं इस बीच साकेत महाविद्यालय में छात्र नेताओं द्वारा छात्र संघ चुनाव को लेकर हंगामा भी शुरू कर दिया था 3 दिनों के अनशन के बाद साकेत महाविद्यालय में छात्रों ने आत्महत्या करने की भी कोशिश की तो वहीं दूसरी ओर विश्वविद्यालय में डाले की चुनौती के मामले पर कमेटी ने भी गंभीरता से विचार करते हुए साकेत महाविद्यालय के प्रधानाचार्य पद को लेकर 50 पन्नों की जांच रिपोर्ट के आधार पर वर्तमान प्रधानाचार्य नर्वदेश्वर पांडे को पद के अर्ह न पाए जाने के तहत हटा दिया है!

रिपोर्ट में बताया गया है कि प्रधानाचार्य पद के लिए होने शैक्षित कैरियर में 110 होने चाहिए। जिसके आधार पर नर्वदेश्वर पांडेय की रिपोर्ट 100 से नीचे है वहीं डॉक्टर अभय सिंह की रिपार्ट 200 से ऊपर पाई गई है। जिसको लेकर कमेटी में प्रबंध समिति को नए प्रधानाचार्य के लिए योग्य व्यक्ति को देने की रिपोर्ट दी है जल्द ही नए साकेत महाविद्यालय की प्रबंध समिति के द्वारा नए प्रधानाचार्य के रूप में सैन्य विज्ञान के प्रोफ़ेसर डॉ अभय सिंह को कार्यभार सौंपा जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News