बाराबंकी : ट्रक के पीछे घुसी डीसीएम,दो मौत पांच घायल,हादसे में सात मवेशियों की भी हुई मौत

जिले के रामसनेहीघाट कोतवाली अन्तर्गत दिलौना मोड़ पर गुरुवार की देर रात करीब डेढ़ बजे हुआ दर्दनाक हादसा

रामसनेहीघाट(बाराबंकी) ! बाराबंकी जिले के रामसनेहीघाट कोतवाली अन्तर्गत हाइवे पर गुरुवार की देर रात एक दर्दनाक हादसा हो गया।एक ट्रक के पीछे मवेशियों से भरी डीसीएम घुस गई।हादसे में जहां डीसीएम चालक की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई।वही आधा दर्जन लोग घायल हो गए।इस दर्दनाक हादसे में डीसीएम पर भूसें की तरह भरी गई नौ मवेशियों में से सात भैंस भी असमय काल के गाल में समा गए।

जानकारी के मुताविक जानकारी के मुताबिक हरदोई जनपद के अनिल कुमार व उन्नाव जनपद के कल्लू अपने साथी मनोज कुमार गोलू मोहित व रामचंद्र के साथ डीसीएम संख्या यूपी 30 टी-7102 पर सवार होकर संतकबीरनगर स्थित नारायणपुर पशु बाजार भैंस खरीदने गए थे।वहां पर उन सभी लोगों ने 9 भैंस खरीदी और शाम को सभी भैंस को डीसीएम पर लादकर वापस उन्नाव के लिए चल दिये।देर रात करीब डेढ़ बजे रात उनकी डीसीएम गाड़ी अयोध्या जनपद को क्रॉस करते हुए बाराबंकी जिले में प्रवेश करती है।और कुछ ही किलोमीटर का सफर पूरा करते हुए राजमार्ग पर स्थित दिलोना मोड के पास पहुंची।तो पहले से खड़े ट्रक यूपी 78 सीएम-0524 के पीछे जा घुसी।हादसे की सूचना पाकर पहुंची पीआरबी 4466 के प्रभारी उदय सिंह व कांस्टेबल दिनेश कुमार ने काफी मशक्कत के बाद बुरी तरह क्षतिग्रस्त डीसीएम के केबिन फंसे चालक और व्यापारियों को बाहर निकलवाया।और तत्काल इलाज के लिए नजदीकी समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बनीकोडर भेजवाया।जहां पर चिकित्सकों ने डीसीएम 42 वर्षीय चालक असलम निवासी बांगरमऊ उन्नाव को मृत घोषित कर दिया।जबकि गंभीर रूप से घायलो को इलाज के लिए एंबुलेंस से जिला अस्पताल भिजवाया।सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जिला अस्पताल में घायलों के उपचार के दौरान मवेसी व्यापारी अनिल कुमार की भी मौत की खबर आ रही है।शेष अन्य घायलों का उपचार जारी है।

जेसीबी से निकाली गई डीसीएम पर मृत भैंसे

दिलौना मोड़ के पास हुए भीषण हादसे में डीसीएम में भरी नौ भैंस में से सात की मौके पर ही मौत हो गई।जिसे वहां मौजूद पुलिस कर्मियों ने जेसीबी से निकलवाकर ट्रैक्टर द्वारा एक सूनसान जगह ले जाकर गड्ढा खोदवाकर उसमें दफन कर दिया।

मृतक के पास से मिले एक लाख रुपये को एम्बुलेंस चालक ने वार्ड ब्वॉय के सुपुर्द किया

दिलौना मोड़ के पास हुए दर्दनाक हादसे में एम्बुलेंस चालक व एमडी ने ईमानदारी की मिसाल पेश किया।बैतैया जाता है कि गंभीर रूप से घायलो को इलाज के लिए एंबुलेंस से जिला अस्पताल भिजवाया गया।जिला अस्पताल ले जाते समय अनिल पुत्र सुरेंद्र की रास्ते में मौत हो गई।जिसके पास से निकली ₹100000 को एम्बुलेंस चालक अमरेश कुमार एमडी अखिलेश कुमार वर्मा ने वार्ड बॉय के सुपुर्द किया दौरान अन्य घायलों का उपचार जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News