ट्रिपल मर्डर से दहला कासगंज, एक ही परिवार के तीन लोगों की गोली मारकर हत्या


उत्तर प्रदेश में तीर्थनगरी सोरों के समीपवर्ती गांव होडलपुर में रविवार की रात पुरानी रंजिश के चलते आरोपियों ने प्रधान के परिवार पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाते हुए हमला बोल दिया। गोलियों से पूर्व प्रधान परिवार के तीन लोगों की मौके पर मौत हो गई। जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें अलीगढ़ रेफर कर दिया गया है। घटना के बाद ग्रामीणों में पुलिस के खिलाफ जबरदस्त आक्रोश बना हुआ है। तनाव के हालात को देखते हुए मौके पर पीएसी और कई थानों का पुलिसबल बुलाया गया है।
हत्याकांड में पूर्व प्रधान राजपाल उर्फ बाबा का पुत्र भूपेंद्र सिंह उर्फ रुद्र (25), भाई प्रेम सिंह (55) पुत्र जौहरी सिंह और भतीजा राधाचरन (26) पुत्र प्रेम सिंह की मृत्यु हो गई है। इन तीनों को कई गोलियां लगीं और मौके पर ही तीनों ने दम तोड़ दिया। जबकि पूर्व प्रधान का एक भाई प्रमोद व एक भतीजा गुड्डू गंभीर रूप से घायल हैं। उन्हें अलीगढ़ रेफर किया गया है।
ताबड़तोड़ फायरिंग की इस घटना से पूरे गांव में दहशत फैल गई। ग्रामीणों का कहना है कि करीब 40 से 50 राउंड फायरिंग हुई। आरोपी वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए। मौके पर एसपी सुशील घुले, एएसपी आदित्य वर्मा सहित अन्य अधिकारी व पुलिसबल पहुंच गया। अधिकारियों और पुलिस को ग्रामीणों के विरोध का सामना करना पड़ा। आक्रोश को देखते हुए पुलिस को पीछे हटना पड़ा। बाद में पीएसी और अन्य थानों का पुलिसबल बुलाया गया। पुलिस शव कब्जे में लेने के प्रयास में लगी थी।
रंजिश की पृष्ठ भूमि में बताया गया कि राजपाल उर्फ बाबा की डॉ. केके राजपूत से पुरानी रंजिश है। दो दशक पहले डॉ. केके के परिवार में किसी की हत्या हो गई थी। जिसमें पूर्व प्रधान जेल गए थे। वहीं ताजा रंजिश का मामला पिछले वर्ष का है।

गांव में एक जुलाई को ऑनर किलिंग की घटना हो गई थी। इस मामले को लेकर पूर्व प्रधान और डॉ. केके राजपूत के परिवारों में रंजिश तेज हो गई। इसी रंजिश के चलते इस बड़ी वारदात को केके राजपूत के पक्ष ने अंजाम देना पूर्व प्रधान के द्वारा बताया गया है। हमलावरों की संख्या भी काफी बताई गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News