बाराबंकी:ब्लैकमेलिंग से आजिज होकर चौथे मंजिल से कूद दे दी जान

बाराबंकी. जिले में एक ऐसी वारदात सामने आई है जिसने सभी के होश उड़ा दिये। यहां एक 10वीं कक्षा की छात्रा ने छत से कूदकर अपनी जान दे दी। छात्रा की आत्महत्या के पीछे जो वजह बताई जा रही है वो बेहद चौंकाने वाली है। दरअसल यह छात्रा मनचलों से परेशान थी और आए दिन उसे कुछ मनचले परेशान किया करते थे। जानकारी के मुताबिक दो दिन पहले ही छात्रा के परिजनों और मनचलों के बीच कहासुनी हुई थी। यहां तक कि इन मनचलों ने छात्रा के घर वालों से मारपीट भी की थी। इसी बात से यह छात्रा पिछले कई दिनों से काफी परेशान थी।

छेड़छाड़ से परेशान थी छात्रा

पूरा मामला नगर कोतवाली क्षेत्र के कमरियाबाग में बनी कांशीराम कॉलोनी का है। जहां छेड़छाड़ से परेशान किशोरी अपने घर से भागकर मामा के घर पहुंची थी, लेकिन वहां भी वही मनचले उसका पीछा करते हुए पहुंच गए। इससे आजिज छात्रा ने कांशीराम कालोनी की ही ब्लाक नम्बर चार की चौथी मंजिल से छलांग लगा दी। चौथी मंजिल से नीचे गिरने से छात्रा काफी बुरी तरह घायल हो गई और उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया। लेकिन वहां कुछ घंटे बाद इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। इस वारदात को लेकर पुलिस ने एक युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। वहीं छात्रा के घरवाले आरोपियों पर हत्या का आरोप लगा रहे हैं।

काफी समय से कर रहे थे परेशान

छात्रा के पिता का कहना है उसकी लड़की को मनचले काफी परेशान कर रहे थे। वह इन लोगों के चलते काफी सदमे में थी। कुछ दिनों पहले मनचलों ने हम लोगों से भी हाथापाई की थी। पिता ने बताया कि इस वारदात के पीछे अभय नगर निवासी मोनू, घंटाघर निवासी सोनू और राकेश जिम्मेदार हैं।

जांच जारी

वहीं इस मामले में बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक डॉ अरविंद चतुर्वेदी का कहना है कि छात्रा ने छत से छलांग लगा दी। घायल अवस्था में स्थानीय लोग इलाज के लिए उसे ट्रामा सेंटर ले गए। हालांकि इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। फिलहाल मामले की जांच जारी है। पुलिस ने युवती के पड़ोसी के रिश्तेदार मोनू और उसके दोस्त सोनू व राकेश के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मुकदमा दर्ज कर लिया है। तीनों युवक की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News