प्रमुख ख़बरें

कोरोना से लड़ाई में काम नहीं आ रही विधायक निधि ,नही है ऐसा कोई नियम

लखनऊ डेस्क : कोरोना वायरस से चल रही जंग में लोगों के बचाव के लिए विधायकों की निधि प्रशासन के काम नहीं आ रही है। वे फंड तो दे रहे हैं लेकिन, अधिकारियों के पास ऐसा कोई प्रावधान नहीं है जिससे उनकी धनराशि का सदुपयोग किया जा सके। इस वैश्विक महामारी में विधायक निधि के इस्तेमाल न होने की समस्या पूरे प्रदेश में है।

नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण से होने वाली बीमारी को विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा वैश्विक महामारी घोषित किया गया है। इस बीमारी का अभी तक कोई इलाज उपलब्ध नहीं हो पाया है। विधान मंडल क्षेत्र विकास निधि के सिद्धांत के तहत गंभीर प्राकृतिक आपदा की स्थिति में पुनर्वास उपायों के लिए यह धनराशि स्वीकृत की जा सकती है लेकिन, प्राकृतिक आपदा संक्रामक रोग/महामारी शामिल नहीं है। ऐसे में वस्तु-सामान की खरीद नहीं की जा पा रही है।

कई जिलों के सीडीओ ने प्रमुख सचिव के साथ ही सांसद, विधायक, आयुक्त, ग्राम्य विकास, जिलाधिकारी और सीएमओ को पत्र भेजा है। बताया कि कोरोना वायरस वैश्विक महामारी है लेकिन, विधायक निधि संक्रामक रोग या महामारी से निपटने के लिए नहीं है। इसलिए प्रमुख सचिव को पत्र भेजा गया है। इससे पूरे प्रदेश की समस्या का समाधान हो सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *