बाराबंकी : दरियाबाद में पकड़ी गई पुष्टाहार की कालाबाजारी, कार्रवाई शून्य

पंजीरी कालाबाजारी का मामला निगलने में जुटे अफसर,दरियाबाद के घड़ियाली मोहल्ले की बताई जा रही पंजीरी।

दरियाबाद (बाराबंकी) : गर्भवती धात्री महिलाओं के लिए आने वाले पुष्टाहार की कालाबाजारी दरियाबाद में जोरों पर है। कुपोषण से बचाव के लिए मिलने वाले पुष्टाहार पंजीरी की कालाबाजारी का मामला प्रकाश में आया है। आगनबाड़ी कार्यकर्ता से खरीद कर पशुओं के लिए ले जाई जा रही 40 पैकेट पंजीरी को युवक ने पकड़वाते हुए पुलिस के सपुर्द कर दिया। पुलिस ने बाल विकास परियोजना विभाग की जांच रिपोर्ट के बाद कार्रवाई की बात कही है। वहीं सीडीपीओ पुष्टाहार की जांच कराएं जाने की बात कहते हुए मामलें को रफादफा करने में जुटे हुए हैं।

दरियाबाद थाने के घड़ियाली मोहल्ला निवासी मुकेश शुक्ला ने बीती रात करीब 9 बजे नवाबगंज मार्ग पर स्थित एक मिल के पास बाइक से बोरी में भरकर ले जा रहे 40 पैकेट पुष्टाहार के साथ एक व्यक्ति रोक लिया। बतातें हैं कि जानवरों के लिए 40 पैकेट पुष्टाहार मोहल्लें की आगनबाड़ी कार्यकर्ता के यहां से लेकर व्यक्ति जा रहा था। बोरी से पुष्टाहार की पैकेट निकलवाने के बाद गिनती कराई गई। इसके बाद मुकेश ने सीडीपीओ दरियाबाद व पुलिस को सूचना दी। सीडीपीओ ने क्षेत्रीय सुपरवाइजर को मौके पर भेजा। उधर एसएसआई एसपी सिंह ने मौके पर पहुंच पुष्टाहार लेकर जा रहे व्यक्ति को बाइक व पुष्टाहार के साथ थाने ले आएं। यहां पर देर रात तक सुपरवाइजर ने जानकारी ली। सुबह तक पुलिस ने भी कोई कार्रवाई नहीं की। रात से सुबह हुई, दोपहर तक कोई भी अधिकारी कुछ भी बताने को तैयार नहीं था। सीडीपीओ पकड़े गए व्यक्ति से दोपहर तक संपर्क नहीं कर सके थे। सब गोलमाल करने में जुटे रहे। मामलें में हीलाहवाली किए जाने को लेकर शिकायतकर्ता मुकेश ने सीडीओ से शिकायत की। व्यक्ति को रंगेहाथ पकड़े जाने के बाद भी दोपहर तक पुष्टाहार किससे खरीदा गया है ? किस व्यक्ति ने खरीदा और कहां का रहने वाला है ? यह नहीं बताया जा सका था।

यही नहीं पंजीरी कालाबाजारी के मामले को विभागीय जिम्मेदार हजम करने में जुटे रहे। सीडीपीओ अनूप श्रीवास्तव ने बताया कि पुष्टाहार पकड़ा गया है। किस केंद्र का पुष्टाहार है, यह नहीं पता चल सका है। जांच के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा। वहीं एसएसआई ने बताया कि मामलें की जांच सम्बंधित विभाग कर रहा है। जांच रिपोर्ट के बाद कार्रवाई की जाएगी। एसएचओ शिवाजी सिंह ने बताया कि सम्बंधित विभाग के लोग आएं थे। उन्होंने मामलें की सुपुर्दगी की मांग की। जिसके बाद उन्हें सुपुर्द कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News