फर्रुखाबाद में 24 बच्चों को बंधक बनाने वाला सिरफिरा देर रात पुलिस से मुठभेड़ में ढेर


उत्तर प्रदेश के फर्रूखाबाद में करीब 11 घंटे चले घटनाक्रम के बाद आखिरकार पुलिस ने बंधक बनाए गए सभी 20 बच्चों को सुरक्षित छुड़ा लिया। इस दौरान एनकाउंटर में आरोपी सुभाष की मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि क्रॉस-फायरिंग में उसकी जान चली गई। इससे पहले उसने खत लिखकर बताया था कि लंबे वक्त से सरकारी योजना के तहत घर और टॉइलट की मांग कर रहा था जिस पर कोई सुनवाई नहीं हो रही थी। माना जा रहा था कि इसी बात से आहत होकर उसने यह कदम उठाया था।
मौके पर पहुंचे कानपुर रेंज के आईजी मोहित अग्रवाल ने सुभाष के मारे जाने की पुष्टि की। उन्होंने बताया, ‘सुभाष क्रॉस फायरिंग में मारा गया। 5 पुलिसकर्मी समेत 6 लोग ऑपरेशन में घायल हुए हैं। उसके घर से राइफल और तमंचे बरामद हुए हैं। वह कई दिनों तक पुलिस से मोर्चा लेना चाहता था।’ जानकारी के मुताबिक गांववालों ने उसके घर पर पथराव किया था जिसमें घर का दरवाजा टूट गया और मौका देखकर पुलिस ने बच्चों को बचा लिया।

CM योगी ने किया इनाम का ऐलान
यूपी अडिशनल चीफ सेक्रटरी और प्रिंसिपल सेक्रटरी (गृह) अवनीश अवस्थी ने बताया है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी पुलिस और सफलतापूर्वक ऑपरेशन को अंजाम देने वाली टीम के लिए 10 लाख रुपये इनाम का ऐलान किया है। ऑपरेशन में शामिल हर पुलिसकर्मी को प्रशस्ति-पत्र भी दिया जाएगा। यूपी डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि ऑपरेशन करीब 8 घंटे चला। उन्होंने बताया, ‘हमने उससे लगातार बात करने की कोशिश की लेकिन हमें पता चला कि उसके पास फायरिंग की क्षमता है और विस्फोटक भी हैं। वह बम चलाने की धमकी भी दे रहा था।’

खत लिखकर बताया, नहीं मिला घर-टॉइलट
उससे बात करने के लिए पुलिस ने उसके दोस्त की मदद ली जिसके बाद उसने 20 में से एक बच्चे को रिहा किया और डीएम के नाम एक खत भी बाहर भेजा। खत में उसने बताया था कि उसे पीएम आवास योजना के तहत घर और टॉइलट देने से प्रधान ने इनकार कर दिया था। दूसरे अधिकारियों से शिकायत करने पर भी कोई कार्रवाई नहीं की गई। माना जा रहा है कि इससे नाराज होकर उसने बच्चों को बंधक बना लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News