अनाथ भाई-बहनों के लिए फरिस्ता बने फैजाबाद जिले के रूदौली विधायक

रूदौली विधानसभा के बहापुर गांव में माता पिता की मृत्यु के बाद अनाथ हुए दो परिवार के बच्चों को पहुचाई मदद

राकेश यादव ब्यूरो रिपोर्ट

फैजाबाद ! सिर से माता-पिता का साया उठने के बाद अनाथ हुए यूपी0 के फैजाबाद जिले के रूदौली विधानसभा के मवई ब्लाक अंतर्गत बहापुर गाँव निवासी दो परिवार के भाई-बहनों के लिए रूदौली विधायक रामचन्द्र यादव मंगलवार को फरिश्ता बनकर पहुंच गए।उन्होंने बच्चों को न केवल वस्त्र आदि भेंट किया बल्कि उनके भोजन और पढ़ाई के भी इंतजामात किया।और जल्द ही मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत पक्का घर भी दिलाने का वायदा किया। इलाके के लोग लोकप्रिय विद्यालय रामचन्द्र यादव की इस रहमदिली की चर्चा करते नहीं अघा रहे हैं।देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर सोमवार को विधायक रामचन्द्र यादव कामख्या भवानी मन्दिर परिसर में विशेष सेवा शिविर की शुरुआत कर रहे थे कि लोगो ने इसी बीच बहापुर गांव के अनाथ हो गए 5 भाई-बहनों के बारे में बताया।
उनकी बदकिस्मती की कहानी सुनकर विधायक भावुक हो गए।

बता दें मवई ब्लाक के बहापुर गाँव निवासी मेवालाल का परिवार हंसी-खुशी से रह रहा था।मेवालाल, खेती-बारी कर परिवार का भरण-पोषण करता था।तभी न जाने किसकी नजर लग गई और माता पिता की मौत हो गई।मेवालाल और उनकी पत्नी की मृत्यु हो जाने के बाद जिनके 5 बच्चे प्रदीप 14 वर्ष, कुलदीप 12 वर्ष,गुड्डू 10 वर्ष,राजा 8 वर्ष, वर्षा 6 साल जो अनाथ हो गई।वही इसी गाँव के मिठाईलाल और उनकी पत्नी की भी मृत्यु हो गई है जिनके पांच बच्चे है चार लड़की और एक लड़का है बड़ा लड़का सुनील 15 वर्ष ,संतोषा 13 ,सतरूपा 11,चाँदनी 9,रागनी 7 साल की है।

इन दोनों परिवारों के बच्चे के पास भोजन तक कि व्यवस्था नही है और न ही रहने के लिये घर बिधायक रामचंद्र यादव ने सभी बच्चों को कपड़े दिया साथ भोजन की व्यवस्था कराई।विधायक रामचंद्र यादव ने कहा कि इन बच्चों की मदद कर बड़ी खुशी महसूस हुई ।उन्होंने बताया कि बच्चों को जल्द से जल्द मुख्यमंत्री आवास दिलाये जाएंगे।और इन बच्चों को पढ़ाने के लिए स्कूलों में दाखिला कराए जाएंगे।उन्होंने कहा कि गरीबी इन बच्चों के आड़े नही आने पाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News