अयोध्या : तो क्या रूदौली क्षेत्र में मुख्यमंत्री के आदेश का ऐसे ही होगा पालन..?

जर्जर गड्ढायुक्त सड़के मुख्यमंत्री के आदेश की बता रही हकीकत

अभियान का अंतिम दिन अभी भी बदहाल क्षेत्र की कई सड़कें

मवई(अयोध्या) ! मुख्यमंत्री की ओर से प्रदेश की जर्जर सड़कों को गड्ढामुक्त कराने के लिए 15 से बढ़ाकर 30 नवंबर तक की समय सीमा निर्धारित कर दी गई है।जो आज समाप्त हो रहा है।लेकिन रूदौली तहसील क्षेत्र की कई सड़क अब भी गड्ढायुक्त है।ऐसे में सवाल उठना लाजिमी है कि क्या रूदौली तहसील क्षेत्र में मुख्यमंत्री के आदेश का इसी तरह पालन होता है।
बता चले कि राष्ट्रीय राजमार्ग से लिंक रोड मवई-पटरंगा की हालत बद-बदतर हो गई है।जिस पर चलने से आए दिन राहगीर गिरकर चोटिल हो जाते है।ये पूरी सड़क गड्ढे में तब्दील हो गई है।मानक विहीन बनी ये सड़क जगह जगह कट गई है।बजड़ियाँ ऊपर निकल आई है।इस रोड पर नित्य सफर करने वाले शैलेन्द्र गुप्त आशीष गुप्त अर्पित मिश्र बताते है कि सड़क की हालत ऐसे कि 3 किलोमीटर का सफर 30 मिनट में होता है।कई बार गड्ढे में कूदकर बाइक गिर गई।हर 15 दिन पर बाइक व स्कूटी की सर्विस करवानी पड़ती है।वही रूदौली से टीकर-फत्तापुर सम्पर्क मार्ग की दशा भी सबसे ज्यादा खराब है।इस क्षेत्र के लोगों ने सड़क को लेकर इतना निराश हो गए है कि कहते है चाहे हम लोग जितनी शिकायत करे लेकिन अब लगता है ये सड़क कभी नही बनेगी।पूरी की पूरी सड़क गड्ढे में तब्दील है।रूदौली-अमानीगंज की सड़क की हालत भी बहुत खराब है।रूदौली-ऐहार, राष्ट्रीय राजमार्ग से अशरफपुर गंगरेला,राष्ट्रीय राजमार्ग से रानीमऊ बकौली,मियां पुरवा से तिवारीपुर,राष्ट्रीय राजमार्ग से जबरवापुर – पूरेकामगार इन सारी सड़क आज भी गड्ढे में तब्दील है।जबकि मुख्यमंत्री का सख्त आदेश था कि सभी सड़के 30 नवंबर तक गड्ढा मुक्त हो जाय।लेकिन रूदौली विधानसभा के दर्जनों सड़क आज भी गड्ढों में तब्दील है।इस बावत पीडब्ल्यूडी के क्षेत्रीय अवर अभियंता अनूप अभियंता अनूप शुक्ला ने बताया मवई क्षेत्र लगभग दर्जनों सड़के गड्ढा मुक्त हुई है।जो शेष बची है उन्हें दो दिन के अंदर गड्ढा मुक्त कर दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News