अयोध्या : दो जनपदों के मध्य गोमती में यात्रियों से भरी नाव पलटी,दर्जन भर डूबे

नौ लोग पानी मे तैरकर बचाई जान,एक का शव बरामद दो लापता

बाराबंकी जिले के सुबेहा से अयोध्या जिले के समगड़ा गांव आ रहे थे यात्री

मवई(अयोध्या) ! बाराबंकी जिले के सुबेहा गांव से अयोध्या जिले समगड़ा गांव आ रहे दर्जन भर लोगों से भरी नाव गोमती में डूब गई।हालांकि नाव पर सवार नौ लोगों ने पानी मे तैरकर अपनी जान बचा ली।घटना की सूचना मिलते ही सुबेहा व मवई एसओ सहित रूदौली के सीओ एसडीएम मौके पर पहुंच स्थानीय गोताखोरों की मदद से नदी के पानी मे लापता लोगों की तलाश हेतु रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया।लगभग एक घंटे बाद एक अधेड़ का शव नदी से बरामद हुआ।जबकि दो लोगों की अभी भी लापता होने की खबर है।सभी लोग बाराबंकी जिले के सुबेहा थाना क्षेत्र के निवासी है।जो नाव पर सवार होकर मवई थाना क्षेत्र के समगड़ा मजरे हँसराजपुर गांव निवासी राम प्रसाद के यहां आयोजित भंडारे में शामिल होने के लिए आ रहे थे।कि अचानक जर्जर नाव की वजह से पूरी नाव पानी में डूब गई।मवई एसओ नीरज सिंह ने बताया कि नाव बाराबंकी जिले की सीमा में डूबी थी।वहीं थोड़ी देर में पुलिस क्षेत्राधिकारी सुरेंद्र तिवारी मय एसडीएम स्वप्निल यादव के साथ मौके पर पहुंचे।दोनों अफसरों ने नदी में जाल डलवाकर व अपने क्षेत्रीय गोताखोरों की मदद से नदी के पानी में लापता दो लोगों की तलाश शुरू करवाई।रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान यात्रियों की कई साइकिलें भी नदी के पानी से बरामद हुई है।हालांकि खबर लिखे जाने तक दोनों जिलों के पुलिस व प्रसानिक अफसर अपने अपने छोर पर मौजूद रहकर गोताखोरों की मदद से लापता लोगों की तलाश में जुटे थे।लेकिन दो लोगों का पता नही चल सका था।

मौके पर पहुंचे विधायक

घटना की सूचना मिलते ही रूदौली के विधायक रामचंद्र यादव भी मौके पर पहुंचे।और घटना स्थल पर मौजूद अफसरों से पूरी जानकारी ली।विधायक ने अफसरों को निर्देश दिया अन्य गोताखोरों की मदद से लापता लोगों की तलाश तेज कराओ।

बिगिनिया घाट पर हुए नाव हादसे पर कांग्रेसी नेता ने जताया दुःख

मवई ब्लॉक के समगढा गांव निवासी राम प्रसाद यादव के यहाँ आयोजित ब्रम्हभोज में आ रहे सुबेहा बाराबंकी के करीब दर्जन भर लोग मवई बिगिनिया घाट गोमती नदी में डूब गये।नाव में करीब 13 लोग सवार थे।अभी तक गोताखोरों द्वारा एक मोटरसाइकिल 12 साइकिल और एक लाश बरामद की गई।नाव चलाने वाला मल्लाह अरविंद वहां से फरार हो गया।इस बड़े हादसे पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य एवं रुदौली विधानसभा के प्रत्याशी रहे दयानंद शुक्ला ने मृतकों को श्रद्धांजलि देते हुए दुख एवं संवेदना व्यक्त की है और सरकार से मांग की है कि मृतकों के परिवार को 25-25 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी जाए।श्री शुक्ला ने कहा कि मृतकों के परिवारों के साथ मैं हमेशा खड़ा हूं कभी भी मेरी जरूरत पड़े परिवार के लोग मुझसे हर प्रकार की मदद ले सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News