अहिंसात्मक आंदोलन करने के लिए तैयार है प्रदेश का किसान,आज पूरे प्रदेश में भूख हड़ताल-दिनेश दूबे

गाजियाबाद बार्डर से लौटे किसान नेता का जोरदार स्वागत,प्रदेश के भाकियू के भानू गुट को छोड़कर बाकी सभी किसान संगठन एक साथ।

मवई(अयोध्या) ! कृषि कानून संबंधी तीनों बिल की वापसी को लेकर गाजियाबाद बार्डर पर किसानों का आंदोलन चल रहा है।इस आंदोलन में अयोध्या जिले से भाकियू के प्रदेश सचिव दिनेश दूबे भी अपने कार्यकर्त्ताओं के साथ शामिल रहे।वहां से शुक्रवार की सुबह लौटे किसान नेता का भाकियू कार्यकर्त्ताओं ने मवई चौराहे पर जोरदार स्वागत किया।किसान नेता ने गाजियाबाद बार्डर पर किसानों के साथ हुए बर्बरता की कहानी बताते हुए लाल किले पर हुई घटना की निंदा की।इन्होंने बताया कि भाकियू के राष्ट्रीय आवाहन पर 30 जनवरी 2021 को प्रदेश के सभी जिला अध्यक्ष व मंडल अध्यक्ष अपने-अपने जिला मुख्यालय तहसील मुख्यालय व ब्लॉक मुख्यालय पर एक दिवसीय भूख हड़ताल पर रहेंगे।प्रदेश के सभी जनपद मंडल अध्यक्ष को निर्देशित किया गया है कि ब्लॉक अध्यक्ष व ग्राम अध्यक्ष अपने सभी कार्यकर्ताओं के साथ दिल्ली गाजीपुर बॉर्डर के लिए निकल पड़े।क्योंकि राकेश टिकैत अमरण अनशन पर बैठ चुके है।भारत सरकार किसान विरोधी बिल वापस नहीं लेना चाहती और किसानों को फर्जी मुकदमे में फंसाना चाहती है।यदि तीनों किसान बिल वापस नहीं हुआ तो महंगाई का बोझ किसानों पर ही नहीं आम जनता पर भी बढ़ेगा।इसलिए भारत सरकार एमएसपी पर कानून बनाने को तैयार नहीं है यदि यह कानून बन जाएगा तो कोई भी व्यक्ति एमएसपी दर के नीचे अनाज नहीं खरीद सकता है यदि खरीदेगा तो जेल जाना पड़ेगा।स्वागत में राम सुरेश तिवारी डीएन एस त्यागी मायाराम यादव उदय नारायण पाठक फतेह बहादुर निर्मल शुक्ला लाल चंद्र गुप्ता राज कुमारी संगीता देवी श्यामनाथ लोधी आदि लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News