सीतापुर : हाइटेंशन तार की चपेट में आकर सामुदायिक शौचालय बना रहे तीन मजदूरों की मौत,एक गंभीर

विपिन मिश्र-ब्यूरो रिपोर्ट हरदोई

सीतापुर ! सीतापुर में सकरन थाना क्षेत्र में 11 हजार विद्युत लाइन की चपेट में आकर सामुदायिक शौचालय बना रहे तीन मजदूर की मौत हो गई। जबकि कारीगर गंभीर रूप से झुलस गया। उसे जिला अस्पताल इलाज के लिए भेजा गया है। रविवार दोपहर करीब डेढ़ बजे हुए हादसे की सूचना मिलने पर इलाका पुलिस ने पहुंचकर तीन शवों को कब्जे में लेकर विधिक कार्रवाई शुरू की है। ग्रामीणों ने विद्युत विभाग की लापरवाही का आरोप लगाया है।
बता दें कि विकासखंड सकरन की ग्राम पंचायत दुगाना में ग्राम पंचायत द्वारा सामुदायिक शौचालय का निर्माण कराया जा रहा है। गांव के पश्चिम स्थित प्रहलाद यादव के अहाते के पास शौचालय का निर्माण हो रहा है। रविवार को इस निर्माण कार्य में चार लोग लगे हुए थे। शौचालय की छत पर काम करते हुए मजदूर अचानक झूलते हुए 11 हजार हाइटेंशन तार की चपेट में आ गए। तेज विद्युत प्रवाह के चलते कार्य में लगे हुए गांव के ही विनीत 15 पुत्र हरिनाम, नीरज 14 पुत्र पतिराखन, अनिल 45 पुत्र अज्ञात व लहरपुर कोतवाली क्षेत्र का रज्जापुरवा निवासी कारीगर चुन्ना पुत्र काशी चपेट में आ गए। चीख पुकार के बीच अफरातफरी मच गई। लोग जमा हुए तो किसी तरह सभी को छत से नीचे उतारा गया।बिजली विभाग को सूचना दी गई। जानकारी मिलने पर सकरन पुलिस आ पहुंची। एंबुलेंस की मदद से सभी को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र साण्डा ले जाया गया। जहां विनीत, नीरज और अनिल को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। कारीगर चुन्ना की हालत गंभीर देखते हुए उसे जिला चिकित्सालय रेफर किया गया है। गांव के लोगों का कहना है कि जर्जर तार की चपेट में आकर पहले भी हादसे हो चुके हैं। ग्रामीणों ने विद्युत विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News