इकलौते बेटे को सूरत में पिता ने छुरे से मार डाला, रमजान पर पसरा मातम

सूरत। लॉकडाउन के बीच शुरू हुए रमजान मास में यहां एक पिता ने बेटे की हत्या कर दी। बेटे को उसने सब्जी काटने वाला चाकू घोंप दिया। दोनों में आपसी लेनदेन को लेकर विवाद हुआ था। बेटे की हत्या होने पर मां ने अपने पति के खिलाफ पुलिस थाने में शिकायत कर दी। जिसके बाद पुलिस ने हत्यारोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया। हत्यारोपी की पहचान 68 वर्षीय अब्दुल हमीद मोहम्मद के तौर पर हुई।
सूरत की घटना, इमरान लंदन में नौकरी करता था

संवाददाता ने बताया कि, यह घटना लालगेट स्थित राणी तालाब क्षेत्र की है।

जहां भारबंदरवाड़ में अब्दुल हमीद मोहम्मद अपनी बीवी शमशुन्नीशा के साथ रहते हैं। उनका 36 वर्षीय बेटा इमरान 10 साल से लंदन में रह रहा था। वहां इमरान एक होटल में नौकरी करता था। लॉकडाउन से कुछ समय पहले ही वह गुजरात लौटा था। उसके साथ उसकी गर्भवती पत्नी और एक साल के बेटा भी परिवार से मिलने आए हुए थे।

लॉकडाउन की वजह से वापस नहीं गया, घर पर रुका

प्रारंभिक पड़ताल में सामने आया है कि, इमरान ने यहां पर पिता से 1.80 लाख रुपए लेकर अपने घर को रिनोवेट करवाया था। इसी माह 10 अप्रैल को इमरान लंदन लौटने वाला था, मगर लॉकडाउन की वजह से ऐसा नहीं हो सका। यहीं, घर पर उसके पिता ने अपने रुपए वापस मांगे। इसी पर कहासुनी शुरू हो गई। पिता-पुत्र में पैसे को लेकर 24 अप्रेल को हाथापाई हुई। दोनों में परिवारवालों के सामने ही विवाद हुआ।

पिता अपने पैसे वापस मांगने लगा, दोनों में विवाद हुआ

पिता अब्दुल हमीद मोहम्मद इतने आग बबूला हो गए कि, उन्होंने इमरान को चाकू मार दिया। वहीं, बेटे को बचाते वक्त इमरान की मां को भी हाथ में चोट लगी। झगड़े के बाद इमरान को बुरहानी अस्पताल में भर्ती किया गया। मगर, वहां पर डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया।

स्थानीय लोगों के अनुसार, पिता पैसे की मांग कर रहे थे और बेटा पैसा देने की स्थिति में नहीं था। झगड़ा बढ़ने पर आवेश में आकर अब्दुल हमीद ने इमरान पर सब्जी काटने वाले चाकू से वार किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News