यूपी के 15 जिले लाॅकडाउन, 25 मार्च, 2020 तक के लिए लाॅकडाउन

लखनऊ, : तेजी से पांव पसार रहे कोरोना वायरस पर अंकुश लगाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश के 15 जिलों में लाॅकडाउन करने की घोषणा कर दी है। सीएम योगी ने लोगों की सुरक्षा के मद्देनजर लखनऊ समेत बनारस, गोरखपुर, कानपुर, मेरठ, बरेली, आगरा, प्रयागराज, गाजियाबाद, नोएडा, अलीगढ़, सहारनपुर, लखीमपुर, आजमगढ़, और मुरादाबाद जिले 25 मार्च, 2020 तक के लिए लाॅकडाउन कर दिया है। इन जिलों में सोमवार सुबह छह बजे से लाॅकडाउन की घोषणा की गई है।

कोरोना वायरस के दुष्प्रभाव के बीच अपनी सेहत की परवाह न करते हुए आम जनमानस की सेवा में संलग्न चिकित्सा कर्मियों, सफाई कर्मियों, पुलिस कर्मियों आदि के प्रति आभार ज्ञापित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जिन जिलों में कोरोना वायरस से पीड़ित लोग मिले हैं वहां विशेष निगरानी के निर्देश दिये गए हैं।

इन जिलों में किसी प्रकार की गतिविधियां नहीं होंगी। नोएडा, ग्रेटर नोएडा में सभी औद्योगिक इकाइयां 25 मार्च तक बंद रहेंगी। सभी मार्केट, मॉल और दुकानें बंद रहेंगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना वायरस का खतरा अभी टला नहीं है। इसलिए पूरी तरह एहतियात बरतने की जरूरत है। थोड़ी सी लापरवाही बड़ा नुकसान कर सकती है। उत्तर प्रदेश सरकार हर स्थिति का सामना करने के लिए पूरी तरह तैयार है। इस बीमारी में उपचार से महत्वपूर्ण बचाव है। इसलिए हमको पूरी सतर्कता और सावधानी बरतनी चाहिए। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में अभी तक स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जिस प्रकार से लोगों ने रविवार को जनता कर्फ्यू को सफल बनाया है, उसी प्रकार से यह कार्यक्रम सोमवार से लगातार चलेगा। इसके पहले चरण में 15 जिले, जहां पर कोरोना वायरस से पीड़ित या प्रभावित है उन्हें शामिल किया गया है। मेरी इन 15 जिलों के नागरिकों से अपील है कि वे कहीं बाहर न निकलें। अनावश्य भीड़ न लगाएं। क्योंकि जरा सी लापरवाही घातक सिद्ध हो सकती है। आपातकाल में यदि किसी परिवार को आवश्यकता है तो वह 112 से तत्काल मदद ले सकता है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 23 से 25 मार्च तक उत्तर प्रदेश परिवहन निगम की बस सेवाएं भी पूरी तरह से बंद रहेंगी। इस दौरान यूपी से बसें नेपाल या फिर किसी अन्य राज्यों के लिए जाएंगी। इसके साथ ही जनता से अपील करूंगा कि सभी लोग अपने घरों में ही पूजा या नमाज करें।

बता दें कि लाॅकडाउन एक तरह से आपात व्यवस्था होती है। लाॅकडाउन के दौरान कोई भी व्यक्ति घर से बाहर नहीं निकल सकता है। सिर्फ अतिआवश्यक स्थिति में बाहर जाया जा सकता है। इसके साथ आवश्यक वस्तुओं के लिए भी लाॅकडाउन के दौरान राहत दी गई है। दवा, राशन बैंक, अस्पताल जाने के लिए ही छूट दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News