अयोध्या : नेहरु व अब्दुल्ला के बीच दोस्ती का परिणाम थी धारा 370- अर्जुनराम मेघवाल

केन्द्र सरकार के संसदीय कार्य व भारी उद्योग राज्यमंत्री है अर्जुन राम मेघवाल,राष्ट्रीय एकता अभियान के तहत एक राष्ट्र,एक संविधान जनजागरण प्रबुद्ध गोष्ठी का भाजपा ने किया आयोजन।

अयोध्या ! शहर के रीडगंज स्थित एक निजी मैरिज हाल में राष्ट्रीय एकता अभियान के तहत एक राष्ट्र, एक संविधान जनजागरण प्रबुद्ध गोष्ठी को सम्बोधित करते हुए केन्द्र सरकार के संसदीय कार्य मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने कहा कि बाबा साहब अम्बेडकर द्वारा बनाये गये ड्राफ्ट का पार्ट धारा 370 नहीं थी। पंडित नेहरु व शेख अब्दुल्ला के बीच दोस्ती थी। जिसमें गठबन्धन हुआ। दोनो की दोस्ती ने देश की अखण्डता में आंच लगाने का काम किया।उन्होने बताया कि जम्मू काश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने के लिए नेहरु ने शेख अब्दुल्ला ने बाबा साहब अम्बेडकर से बात करने के लिए कहा। अम्बेडकर ने इस प्रस्ताव को मानने से इंकार कर दिया। इसके बाद गोपाल स्वामी अयंगर ने यह डाफ्ट प्रस्तुत किया।जिसका मौलाना आजाद ने भी विरोध किया। जब श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने लोकसभा में इस मुद्दें को उठाया तो नेहरु ने कहा कि यह अस्थाई है। घिसते घिसते घिस जायेगी। परन्तु यह मजबूत हुई और आतंकवाद को जन्म दिया। वहां जाने वाली परमिट के नियम को तोड़ने को लेकर श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने बलिदान दिया। जिसके बाद धारा 370 से कुछ चीजें हटाई गयी।उन्होने कहा कि 2014 में राज्यसभा में बहुमत नहीं था। लेकिन जब 2019 में थ्री नाट थ्री यानि 303 का बहुमत दिया तो निशाना सीधा लगा। पहले ही सत्र में 370 हट गयी। क्षेत्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह धारा 370 को लेकर आंकड़ो के साथ कांग्रेस के उपर निशाना साधा। सांसद लल्लू सिंह ने कहा कि धारा 370 समाप्त होने से आतंकवाद व अलगाववाद को करारा जवाब मिला है। महापौर ऋषिकेश उपाध्याय ने कहा कि अब कश्मीर में अपेक्षित विकास होगा।विधायक रामचन्दर यादव ने कहा कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी के संकल्पों को सार्थक इस सरकार ने किया।स्वागत भाषण जिलाध्यक्ष अवधेश पाण्डेय बादल व कार्यक्रम की अध्यक्षता महानगर अध्यक्ष कमलेश श्रीवास्तव ने किया। इस अवसर पर क्षेत्रीय संगठन महामंत्री प्रद्युम्न, डा बांके बिहारी मणि त्रिपाठी, धर्मेन्द्र प्रताप सिंह टिल्लू, अभिषेक मिश्रा, डा विक्रमा पाण्डेय, डा जरीन नजर, डा सत्येन्द्र त्रिपाठी, महंत हरभजन दास, राजूदास, शक्ति सिह, प्रकाश गुप्ता, विजय गुप्ता, महंत गिरीश पति त्रिपाठी, डा विजय लक्ष्मी जायसवाल, इं रणवीर सिंह, प्रो कृष्ण मुरारी सिंह, अशोका द्विवेदी, रमेश सिंह, गिरीश पाण्डेय डिप्पुल, बसन्ती सिंह, रीना द्विवेदी, शिवम सिंह, संजीव सिंह, राममोहन भारती, तिलकराम मौर्या, शैलेन्दर कोरी, राधेश्याम त्यागी, वासुदेव मौर्या, डा अलीउद्दीन खान, परमानंद मिश्रा, पिंटू माझी, बृजेन्द्र सिंह, अरविंद सिंह, हरीश श्रीवास्तव, कृष्ण कुमार पाण्डेय खुन्नू, इन्द्रभान सिंह, शकुंतला त्रिपाठी, विद्याकांत द्विवेदी मुन्ना सिंह, दिवाकर सिंह मौजूद रहे। मंच पर केन्द्रीय मंत्री को स्मृति चिन्ह प्रदान किया गया।इससे पूर्व रौनाही टोल प्लाजा पर केन्द्रीय मंत्री का जिला महामंत्री संजीव सिंह, कृष्ण कुमार पाण्डेय खुन्नू, हरीश श्रीवास्तव, अनुपम मिश्र,विष्णु प्रताप, वेद गुप्ता, भूपेन्द्रसिंह बल्ले, राजनरायन तिवारी, शिवाकांत तिवारी द्वारा गर्मजोशी से स्वागत किया गया।

This slideshow requires JavaScript.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News