तमसा नदी की खुदाई से निकली मिट्टी डम्प करने से पीड़ित का दरवाज़ा बंद[सतीश यादव की रिपोर्ट]

पीड़ित ने दिया शिकायती पत्र

[सतीश यादव-ब्यूरो रिपोर्ट]

अयोध्या ! मवई ब्लाक क्षेत्र में तमसा नदी में ख़ुदाई के दौरान निकली मिट्टी को एक घर के सामने जमा कर देने से लोगों का घर से निकलना दुस्वार हो गया है।पीड़ित ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक व उपजिलाधिकारी को लिखित शिकायती पत्र देकर मिट्टी हटवाने व ग्राम प्रधान पर कार्यवाई करने की मांग की है।
जानकारी के अनुसार बीबीपुर गांव निवासी मो0 वसीम पुत्र खालिद द्वारा दिए गए शिकायती पत्र में आरोप है कि लगभग 50 वर्षों से वह तमसा नदी के किनारे अपना मकान बना कर परिवार के साथ रहता था गत दिनों पूर्व जिलाधिकारी द्वारा तमसा नदी की ख़ुदाई कराने का आदेश पारित हुआ जिसको ग्राम सभा द्वारा खुदाई कराने की बात बताई जा रही है।पीड़ित मो0 वसीम ने बताया कि इम्बिसात अहमद पुत्र मो उमर प्रधान पति व उनका बेटा मो0 कफील पुरानी रंजिश के कारण तमसा नदी से खुदाई कराइ गयी मिट्टी को बदले की भावना से दरवाजे पर डंप करवा दिया गया जिससे उसका दरवाजा पूर्ण रूप से बन्द हो गया।पीड़ित ने बताया कि जब अपने दरवाजे पर पड़ी मिट्टी को हटाकर खोलने का प्रयास किया तो ग्राम प्रधान पति के द्वारा माँ व् बहन की भद्दी भद्दी गालियां देते हुए फौजदारी पर उतर आए जिसकी सूचना पुलिस सहायता केंद्र डायल100 पर दी गयी।मौके पर पहुंची पुलिस बड़ी मसक्कत के बाद दरवाजे से मिट्टी हटवाकर घर से निकलने का रास्ता दिलवा पाई।पीड़ित का आरोप है कि अभी भी ग्राम प्रधान पति एलानिया धमकी देता है कि मेरी पहुंच ऊपर तक है और पैसे से सब कुछ हो सकता है।तुमको जहां जाना है जाओ देखता हूं तुम्हारा दरवाजा कौन खुलवाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News