मेरठ:भाजपा नेता और दारोगा के बेटे में विवाद में बीच सड़क पर महिला के कपड़े फाड़े

देश में लोकसभा चुनाव चल रहे हैं और ऐसे समय में भाजपा के नेताओं की गुंडागर्दी की खबर आई हैं, जो भाजपा की छवि को धूमिल कर रही है. यूपी के मेरठ में कुछ भाजपाइयों ने एक महिला की सरेआम पिटाई की और उसके कपडे भी फाड़ दिए.

दरअसल, शहर के बीच में स्थित मेघदूत पुलिया पर भाजपा के नेताओं की बाइक और एक दंपति की गाडी की टक्कर हो गई. बाइक में टक्कर लगने का विरोध करने पर भाजपाइयों ने दरोगा के पुत्र और पुत्रवधू को पीटा और महिला के साथ अभद्रता की.

मिली जानकरी के अनुसार, जब जागृति विहार सेक्टर-6 निवासी दरोगा तेज बहादुर सिंह का बेटा प्रशांत वरुण अपनी पत्नी आरती को लेकर पीएल शर्मा रोड स्थित डॉक्टर के पास लेकर जा रहा था, लेकिन रास्ते में एक स्कार्पियो ने बाइक में टक्कर मार दी. गाड़ी में भाजपा नेता दिग्विजय सिंह सवार थे. टक्कर मारने का विरोध करने पर दिग्विजय सिंह, दो भाजपा कार्यकर्ताओं और गाड़ी में बुरका पहने बैठी एक महिला गाड़ी सवार दंपति के साथ मारपीट शुरू कर दी. उन्होंने महिलाओं के कपड़े भी फाड़ दिए. इसके बाद महिला के पत्नी ने अपनी शर्त निकालकर पत्नी को पहना दी.

दंपति से अभद्रता करने के बाद दंपती ने हंगामा शुरू कर दिया। महिला भाजपाइयों की गाड़ी के आगे लेट गई और वहां जाम लग गया. महिला ने चिल्ला-चिल्लाकर कहा कि चाहे जितने लोगों को बुला लो, वह तभी हटेगी, जब पुलिस आ जाएगी. जब पुलिस मौके पर पहुंची तब मामला शांत हुआ. भाजपा नेता के पक्ष में करीब 150 कार्यकर्ता पुलिस स्टेशन पहुंचे वहीँ दंपती के पक्ष में करीब 25 लोग थाने पहुंचे. पुलिस दंपति को मामला वापस लेने की समझाइश दे रही है, लेकिन जब महिला नहीं मानी तो भाजपा नेता दिग्विजय सिंह व एक महिला सहित पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया. वहीँ दिग्विजय सिंह का कहना था कि महिला खुद को एसपी क्राइम डॉ. बीपी अशोक की रिश्तेदार बता रही थी. एसपी क्राइम बार-बार दरोगा को फोन कर मुकदमा पंजीकृत करने का दबाव बना रहे थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News