अयोध्या :सरसों के खेत में लावारिश अवस्था मे मिला शव का ताबूत,जांच में जुटी पुलिस

सूचना पर पूरे दलबल के साथ पहुंचे थानाध्यक्ष ने ताबूत को कब्जे में लेकर शुरू की जांच पड़ताल

पटरंगा थाना क्षेत्र के अशरफपुर गंगरेला जंगल के पास संदिग्ध परिस्थितियों में मिला ताबूत।

पटरंगा ! पटरंगा थाना अंतर्गत अशरफपुर गंगरेला जंगल के निकट सरसों के खेत में ग्रामीणों द्वारा एक शव के ताबूत को देखा गया।और ये बात थोड़ी ही देर में पूरे गांव में फैल गई।और लोगों के मन में तरह तरह के अनहोनी आशंकाए पनपनें लगी।तभी इसकी भनक क्षेत्र गस्त पर निकले पटरंगा थानाध्यक्ष संतोष कुमार को लग गई।वे तुरन्त दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और ताबूत को कब्जे में लेते हुए छानबीन में जुट गए।

जानकारी के मुताविक बुधवार की सुबह पटरंगा थाना क्षेत्र में राष्ट्रीय राजमार्ग से दो सौ मीटर की दूरी पर उत्तर दिशा में अशरफपुर गंगरेला जंगल के समीप किसान संतराम निषाद उर्फ बेकारू के सरसों के खेत में संदिग्ध परिस्थतियों में एक ताबूत ग्रामीणों द्वारा देखा गया।जिसकी भनक लगते ही पटरंगा थानाध्यक्ष संतोष सिहं व हाइवें चौकी प्रभारी दीपेन्द्र विक्रम सिहं मय पुलिस फोर्स के साथ मौकें पर पहुंचे।और ताबूत को उलट-पलट कर देखा तो पता चला कि वो खाली है तत्पश्चात पुलिस कर्मियों ने घटनास्थल के आस-पास खेत व जंगलो में काम्बिंग कर छानबीन की।लेकिन कही कुछ नही मिला।ताबूत के ऊपर तीन सील लगी हुई थी।जिसकी पहचान भी नही हो पा रही थी।अंत में पुलिस ने ताबूत को अपनें कब्जें में ले लिया।और जांच पड़ताल के लिये गांव पहुंचे।जहां लोगों से जानकारी संकलन की।छानबीन के दौरान किसान संतराम के भतीजें पचई ने बताया कि उसके दादा संतराम उर्फ बेकारू निषाद ने दो तीन माह पूर्व इस ताबूत को हाइवे के किनारे जंगल से उठा कर लाए थे।जिसे नीलगाय से फसल को बचाने के लिये अपनें खेत में खड़ा कर दिया था।जो थोड़े दिन बाद गिर गया।जिस पर बुधवार की सुबह कुछ ग्रामीणों की निगाह पड़ी तो वे किसी आशंका से ग्रसित हो गए।इस बावत पटरंगा थाना प्रभारी संतोष कुमार सिहं ने बताया कि जानकारी मिलते ही वे मौकें पर गए और ताबूत को अपने कब्जे में ले लिया।इन्होंने बताया छानबीन में पता चला कि किसान संतराम निषाद ने तीन माह पूर्व इसे हाइवे के किनारें से उठाकर लाये थे।जिसे नीलगाय से फसल को बचाने के लिये अपने खेत मे लगा दिया।

ताबूत का नही लगा साबूत।

खेत मे ताबूत दिखने से आशंकित ग्रामीण तरह तरह की आशंका व्यक्त करने लगे।लोगों का कहना है कि हाइवे के किनारे कुशहरी जंगल के समीप अब तक कई अज्ञात लाशें मिली।जिसमे अभी कुछ की पहचान नही हो पाई।ग्रामीण आशंका व्यक्त करते हुए सवस्ल उठा रहे है कि आखिर ये ताबूत किसने यहां फेंका।ताबूत को देखने से प्रतीत होता है कि ये कोई बाहरी ताबूत है।क्योंकि उसके ऊपर सिल मुहर भी है।जो पहचान में नही आ रही है।हालांकि पटरंगा थानाध्यक्ष संतोष सिंह का कहना कि जब तीन माह पूर्व से पड़ा है तो किसी अनहोनी की आशंका नही है फिर हाल जांच पड़ताल जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News