प्रधानमंत्री मोदी के सराब पर सपा का पलटवार, नरेंद्र मोदी और शाह को कहा- ‘नशा’

लोक सभा चुनाव का बिगुल बजते ही सभी राजनीतिक दल एक दूसरे पर कीचड़ उछलने में लग गए है। मेरठ की रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सपा-रालोद-बसपा गठबंधन को सराब कहे जाने को लेकर सियासत गरमा गई है। पहले सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री को सराब और शराब का अंतर बताया और अब सपा के प्रवक्ता ने नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी को नशा करार दिया है। दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मेरठ की रैली में सपा के ‘स’, रालोद के ‘रा’ और बसपा के ‘ब’ को मिलाकर तीनों दलों के गठबंधन को ‘सराब’ बताते हुए कहा कि यह आपको (जनता को) बर्बाद कर देगा। पीएम मोदी अपने भाषण के जरिए ‘सराब’ को शराब बताने की कोशिश कर रहे थे जो सेहत के लिए हानिकारक है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सपा-रालोद-बसपा गठबंधन को सराब कहे जाने पर सबसे पहले सपा मुखिया अखिलेश यादव ने ट्वीट पर प्रधानमंत्री मोदी पर पलटवार करते हुए ट्वीट में लिखा कि ‘सराब’ और ‘शराब’ अंतर वह लोग नहीं जानते जो नफ़रत के नशे को बढ़ावा देते हैं। सराब को मृगतृष्णा भी कहते हैं और यह वह धुंधला सा सपना है जो भाजपा 5 साल से दिखा रही है। अखिलेश यादव के इस पलटवार को एक कदम और आगे ले जाते हुए समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता मनोज राय धुपचंडी ने अपने ट्वीट में एक तस्वीर साझा की जिसमें लिखा है हिंदुस्तान को नशा मुक्त बनाना है। इस तस्वीर में नरेंद्र मोदी के ‘न’ और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के ‘शा’ को मिलाते हुए दोनों नेताओं की जोड़ी को ‘नशा’ बताया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News