प्रदेश में होने वाले 22 करोड़ पौधरोपण के लिये वनविभाग की माइक्रो प्लानिंग शुरू

मुख्य वनसंरक्षक मध्य क्षेत्र ने गुरुवार को अयोध्या जनपद में बैठक कर किया कार्यक्रम का शुभारंभ।

जिले बसौड़ी पौधशाला के सभा कक्ष में प्रधान व वनकर्मियों संग बैठक कर इस वर्ष के पौधरोपण लक्ष्य की माइक्रोप्लान पर किया चर्चा।

मवई(अयोध्या) ! यूपी की पूर्व अखिलेश सरकार द्वारा पौधरोपण को लेकर के छेड़ी गई मुहिम के बाद अब प्रदेश की वर्तमान योगी सरकार भी इस मुहिम को लगातार आगे बढ़ा रही है।विगत वर्ष प्रदेश में नौ करोड़ पौधरोपण का लक्ष्य पूरा करने के बाद योगी सरकार ने इस वर्ष पौधरोपण की संख्या में बड़ा इजाफा करते हुए प्रदेश में कुल जनसंख्या के आधार पर 22 करोड़ पौधों का रोपण कराने का लक्ष्य रखा है।जिसके परिपेक्ष्य आज गुरुवार के प्रदेश के मुख्य वन संरक्षक(मध्य क्षेत्र)विष्णु सिंह ने आगामी लक्ष्य को लेकर बसौड़ी पौधशाला के सभाकक्ष में एक बैठक कर माइक्रोप्लान पर विस्तारपूर्वक चर्चा की।
बता दे आगामी वर्षाकाल 2019 में प्रदेश के अंदर कुल 22 करोड़ पौधों का रोपण किया जाएगा।इस लक्ष्य को पूरा करने के लिये एक माइक्रो प्लान भी तैयार किया गया।इस माइक्रो प्लान के तहत वन विभाग के अलावा 22 अन्य विभागों का लक्ष्य निर्धारित किया गया।सभी विभाग अपने अपने लक्ष्य के अनुरूप आगामी वर्षाकाल में एक अभियान के तहत पौधरोपण करेंगे।इसी माइक्रो प्लान में प्रदेश के सभी ग्राम प्रधान के अलावा सम्मानित किसान भाइयों को भी प्रेरित कर पौरोपण कराने की योजना है।जिसके तहत आज अपने एकदिवसीय दौरे पर अयोध्या आए प्रदेश के मुख्य वन संरक्षक (मध्य क्षेत्र)विष्णु सिंह ने बसौड़ी पौधशाला के सभाकक्ष में ग्रामप्रधान व वनकर्मियों के साथ एक बैठक कर 22 करोड़ पौधरोपण के परिपेक्ष्य बने माइक्रोप्लान पर विस्तारपूर्वक चर्चा की।बैठक को संबोधित करते हुए मुख्य वन संरक्षक ने कहा पर्यावरण को शुद्ध करने के लिए वृक्षारोपण बहुत जरूरी है।जिसके लिए प्रदेश के एक-एक व्यक्ति को पौधरोपण अभियान में आगे आना होगा।प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस बार प्रदेश में 22 करोड़ पौधरोपण कराने का लक्ष्य रखा है जिसमें वन विभाग के अलावा 22 अन्य विभागों सहित सम्मानित ग्राम प्रधान व ग्रामीण क्षेत्र के किसान भाइयों के सहयोग से पौधरोपण कराने की योजना भी माइक्रो प्लान में शामिल है।मुख्य वन संरक्षक ने बैठक में आए ग्राम प्रधानों व किसानों का आवाहन करते हुए उनसे सहयोग की अपील की है।साथ ही ग्राम प्रधानों को निर्देश देते हुए कहा कि वह अपने गांव में इच्छुक किसानों से एक आवेदन लेकर क्षेत्रीय वनकर्मी को दे दे।जिससे उन किसान के खेतों व उनकी जमीनों पर वन विभाग द्वारा पौधरोपण कराया जा सके।इस माइक्रो प्लान की बैठक में प्रभागीय वनाधिकारी अयोध्या डॉ रवि कुमार के अलावा क्षेत्रीय वनाधिकारी विक्रमजीत उपक्षेत्रीय वनाधिकारी वीरेंद्र तिवारी सैयद ततहीर अहमद अरविंद मिश्रा जगदीश यादव हरिशंकर यादव राजेन्द्र राजबहादुर फयाजुल अखंड प्रताप सिंह नेपाल शीतला यादव मोल्हे प्रसाद रामकेवल सहित ग्राम प्रधान होली रावत प्रधान प्रतिनिधि मैनुद्दीन शेर बहादुर यादव आदि लोग उपस्थित रहे।

अयोध्या जिले को मिला 40 लाख पौधरोपण का लक्ष्य

आगामी वर्षाकाल मे प्रदेश में होने वाले 22 करोड़ पौधरोपण के परिपेक्ष अयोध्या जनपद को कुल 40 लाख पौधरोपण कराने का लक्ष्य मिला है।जिसमें 18 लाख पौधरोपण वन विभाग करवाएगा शेष 22 लाख पौधरोपण जिले के अन्य 22 विभागों को मिला है।जिले के डीएफओ डॉ रवि कुमार ने बताया कि।जिले की पौधशालाओं में पर्याप्त पौध उपलब्ध है। इस बार हम अपनी पौधशालाओं से पौध देंगे साथ ही सबसे अधिक पौधरोपण करने वाले किसानों को हम सम्मानित भी करेंगे उन्होंने इस पुण्य के कार्य में ग्राम प्रधानों व किसानों के सहयोग का आवाहन किया है।

जैव विविधता पुस्तक का विमोचन किया।

बैठक में रुदौली वन रेंज अंतर्गत मांजनपुर के प्रधान प्रतिनिधि मैनुद्दीन खा को मुख्य वन संरक्षक ने सम्मानित किया।बता दे मांजनपुर गांव जैव विविधता योजना में चयनित हुआ था।इस कार्य में ग्राम प्रधान ने जैव विविधता की एक डिजिटल पुस्तक बनाने में भी वनविभाग का बहुत सहयोग किया था।मुख्य वन संरक्षक ने बैठक के दौरान जैव विविधता की इस पुस्तक का आज विमोचन भी किया।इसके अलावा मुख्य वन संरक्षक ने बसौड़ी प्रधान प्रतिनिधि शेर बहादुर यादव व सुल्तानपुर प्रधान होली रावत को भी पुष्पगुच्छ देकर सम्मानित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News