सपा ने कानून व्यवस्था को लेकर किया प्रदर्शन

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में मंगलवार से शुरु हो रहे विधानसभा के शीतकालीन सत्र के पहले दिन सदन की कार्यवाही शुरू होने पर भाजपा विधायक राम कुमार वर्मा व पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी के निधन पर शोक प्रस्ताव के बाद सदन की कार्यवाही कल 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। इससे पहले समाजवादी पार्टी के विधायकों ने राज्य की कानून व्यवस्था और किसानों के मुद्दे को लेकर प्रदर्शन किया।

सुबह करीब साढे़ दस बजे विधायक पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के सामने आलू की माला पहनकर धरने पर बैठे गए। सपा के प्रवक्ता एवं एमएलसी सुनील सिंह साजन का कहना है मौजूदा सरकार में किसानों के साथ अत्याचार हो रहा है। किसानों को गन्ना का भुगतान नहीं पा रहा है पर्चियां नहीं पहुंच रही है। कानून व्यवस्था सबसे ज्यादा खराब है।

कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजय कुमार लल्लू ने कहा है कि प्रदेश की कानून-व्यवस्था अपराधियों व भीड़तंत्र के हाथ में आ गई है। नौजवानों रोजगार मांगते हैं तो लाठियां मिलती हैं। वहीं, किसान आत्महत्या को मजबूर हैं। उन्होंने विधानमंडल सत्र की अवधि एक माह करने की मांग की।उन्होंने बताया कि विपक्षी दलों के नेताओं ने सर्वदलीय बैठक में सत्र की अवधि बढ़ाने का मुद्दा उठाया।

कहा, समस्याएं इतनी ज्यादा हैं कि तीन दिन में उठा पाना संभव नहीं है। उन्होंने याद दिलाया कि भाजपा ने 90 से 120 दिन सदन चलाने का वादा किया था।

हालांकि विपक्ष इतने छोटे सत्र को लेकर पहले ही सरकार की मंशा पर सवाल उठा चुका है। हालांकि सरकार की ओर से संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना ने सफाई दी थी कि जितना जरूरी होगा उतना ही सदन चलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News